News Flash
Spur Apple Shimla

फागू से गए 153363 सेब बॉक्स

हिमाचल दस्तक। ठियोग

ठियोग सहित अपर शिमला में सेब सीजन धीरे धीरे रफ्तार पकडऩे लगा है। निचले क्षेत्रों से अब स्पर के अलावा रॉयल और रेड गोल्डन सेब भी मंडियों में आने लगा है। जानकारी के अनुसार फागू में मुख्य नियंत्रण कक्ष से अभी तक 153363 सेब की पेटियां देश की विभिन्न मंडियों में भेजी जा चुकी है। देश की विभिन्न मंडियों में सेब के दाम अच्छे मिल रहे है।

स्पर किस्म का सेब 2500-35000, रॉयल सेब 1500-2200, रेड-गोल्ड 1000-1500 के बीच बिक रहा है। अभी सेब के दाम नीचे गिर सकते है। मंडियों में अभी सेब की कम आमद है। आमद बढऩे के साथ ही सेब के दामों में कुछ गिरावट आ सकती है। सेब बागवानों से कच्चा सेब न तोडऩे की अपील की गई है। ठियोग की पराला मंडी के साथ भट्टा कुफर ,परमाणु, दिल्ली, चंडीगढ़ आदि सेब भेजा जा रहा है।

Apple

ठियोग में फागू और नैना नियंत्रण कक्ष रात दिन 24 घण्टे तक काम कर रहे है। इस बार प्रशासन की ओर से सेब सीजन के मद्देनजर विशेष इंतजाम किए गए है। हर गाड़ी और चालक के साथ क्लीनर का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। चालकों के फोटोयुक्त पहचान पत्र बनाए जा रहे है ताकि किसी प्रकार की धोखाधड़ी का सामना न करना पड़े।

उधर एपीएमसी ने सेब बागवानों को ठगी से बचाने के विशेष प्रयास शुरू किए है। बिना पंजीकरण सड़क किनारे बैठने वाले आढ़तियों पर शिकंजा कसा जा रहा है। इसके अलावा बागवानों की पेमेंट का जल्द भुगतान न होने पर भी सेब के खरीददारों पर कार्यवाही हो सकती है। कुछ दिनों से पर्याप्त बारिश न होने से सेब के आकार में वृद्धि नहीं हो पा रही है जिससे सेब बागबान चिंतित है।

क्या कहते है एपीएमसी अध्यक्ष

एपीएमसी शिमला किन्नौर के अध्यक्ष नरेश शर्मा के अनुसार बागवानों के हितों के लिए एपीएमसी लगातार प्रयास कर रही है। सेब बागवानों के साथ किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी बर्दाश्त नहीं होगी। रुमाल के नीचे बोली लगाने वाले सेब खरीददारों को नोटिस दिए गए है। इनके लाइसेंस रद्द हो सकते है।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams