News Flash
maruti suzuki

एमएसआई के चेयरमैन आरसी भार्गव ने किया एलान

नई दिल्ली
कार बनाने वाली सबसे बड़ी घरेलू कंपनी मारुति सुजूकी इंडिया (एमएसआई) ने अगले साल 1 अप्रैल से डीजल कारों की बिक्री बंद करने की वीरवार को घोषणा की। कंपनी ने भारत स्टेज (बीएस) 6 उत्सर्जन मानक अगले साल से लागू किए जाने के मद्देनजर यह कदम उठाया है। डीजल वाहनों के बारे में पूछे जाने पर कंपनी के चेयरमैन आरसी भार्गव ने संवाददाताओं से कहा कि 1 अप्रैल, 2020 से हम डीजल कारें
नहीं बेचेंगे।

हालांकि उन्होंने कहा कि यदि बीएस-6 मानक के डीजल कार की मांग आती है तो कंपनी इस दिशा में आगे बढ़ सकती है और इसके अनुकूल डीजल मॉडल विकसित कर सकती है। भार्गव ने कहा कि 1 अप्रैल, 2020 से हम डीजल कारों की बिक्री बंद कर देंगे। आगे बीएस-6 डीजल कारों के प्रति उपभोक्ताओं का रुख देखने के बाद यदि हमें लगा कि इन कारों का बाजार है तो हम कुछ ही समय में इस तरह का कार तैयार कर लेंगे। कंपनी की कुल घरेलू बिक्री में डीजल वाहनों की हिस्सेदारी करीब 23 प्रतिशत है।

कंपनी ने पिछले वित्त वर्ष में 4.63 लाख डीजल कारों की बिक्री की थी। कंपनी के विटारा ब्रेजा और एस-क्रॉस जैसे मॉडल अभी सिर्फ डीजल इंजन के साथ आते हैं। वहीं स्विफ्ट, बलेनो, डिजायर, सिआज और एर्टिगा जैसी कारें डीजल के साथ पेट्रोल इंजन संस्करण में भी आती हैं। कंपनी ने अगले साल से हल्के वाणिज्यिक वाहन सुपर कैरी के डीजल संस्करण की भी बिक्री बंद करने का फैसला किया है। यह वाहन अब केवल पेट्रोल और सीएनजी संस्करण में उपलब्ध होगा।

4500 करोड़ का निवेश करेगी एमएसआई

मारुति सुजूकी इंडिया (एमएसआई) ने चालू वित्त वर्ष 2019-20 में 4,500 करोड़ रुपये का निवेश करने की घोषणा की है। कंपनी के मुख्य वित्त अधिकारी (सीएफओ) ने कहा कि यह नया निवेश कई तरह की पहल मसलन नए उत्पाद के विकास, शोध एवं विकास और बिक्री नेटवर्क के लिए भूमि के अधिग्रहण पर किया जाएगा।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams