gang raped

14 घंटे बलात्कारियों के चंगुल में रही पीडि़ता

हिमाचल दस्तक। गुरुग्राम
शहर से करीब 40 किलोमीटर दूर नूंह अनाज मंडी एरिया से अपहरण के बाद छठी की छात्रा से गैंगरेप का मामला सामने आया है। क्षेत्र के तीन दबंगों पर वारदात को अंजाम देने का आरोप है। पीडि़ता और उसकी दादी ने खुद की जान को खतरा बताया है। पुलिस ने मेडिकल के बाद छात्रा का मैजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज कराए हैं। इसके अलावा तीनों युवकों पर पॉक्सो एक्ट के अलावा अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया।

पुलिस को दी शिकायत में एक बुजुर्ग महिला ने बताया कि उसकी 12 साल की पोती छठी कक्षा में पढ़ती है। बच्ची के पिता की मौत हो चुकी है और उसकी मां ने भी दूसरी शादी कर ली। इस वजह से पोती उसके साथ ही रहती है। रविवार सुबह बच्ची लस्सी लेने पड़ोस में गई थी। वापस लौटते वक्त बाइक पर सवार दो युवकों ने उसका अपहरण कर लिया।

उन्होंने उसकी आंखों पर पट्टी बांध दी और बाइक पर बैठाकर ले गए। कुछ सुंघाकर बेहोशी की स्थिति में उसे पूरे दिन लेकर घूमते रहे। शाम को एक पुराने घर में ले गए। वहां एक अन्य आरोपी पहले से ही मौजूद था। यहां तीनों ने बारी-बारी से बच्ची के साथ कथित रूप से रेप किया। इसके बाद बच्ची को घर में बंद कर तीनों कहीं चले गए।

दादी के मुताबिक, मौका पाकर पीडि़ता किसी तरह वहां से भागकर रात 8 बजे घर पहुंची। घर आकर दादी से आपबीती सुनाई। हैवानियत सुनकर परिवार के लोगों के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। इसके बाद महिला थाने में शिकायत दी गई। सोमवार को पीडि़ता का मेडिकल चेकअप कराने के बाद मैजिस्ट्रेट के समक्ष उसके बयान कराए गए। इसमें बच्ची ने तीनों आरोपितों के नाम रिजवान, ढक्कन, सोएम बताए हैं। तीनों नूंह के ही रहने वाले हैं।

महिला थाना प्रभारी एसआई राजकला ने बताया कि बहुत जल्द आरोपियों को अरेस्ट कर लिया जाएगा। पुलिस आरोपितों कें संभावित ठिकानों पर रेड कर रही है। इसके अलावा उनके आपराधिक इतिहास के बारे में पता कर रही है।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams