News Flash
42 women arrested

वार्षिकी – नशे की तस्करी करने वालों पर 2018 में भारी पड़ी पुलिस

270 दर्ज मामलों में 311 तस्कर हुए गिरफ्तार

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। धर्मशाला
नशा तस्करी में महिलाओं की संलिप्तता बढ़ती जा रही है और इसका प्रमाण वर्ष 2018 में जिला पुलिस द्वारा पकड़ी गई महिलाओं की संख्या से मिलता है। एक वर्ष की अवधि में 42 महिलाओं को नशा तस्करी करते हुए पुलिस ने गिरफ्तार किया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक जिला कांगड़ा पुलिस ने वर्ष 2018 में नशा तस्करी के अब तक के सर्वाधिक 270 मामले पंजीकृत किए, जबकि वर्ष 2017 में 245 मामले दर्ज किए गए थे। 2018 में इन 270 मामलों में पुलिस ने 311 लोगों को सलाखों के पीछे धकेला। इस दौरान जहां 285 हिमाचली संलिप्त पाए गए। वहीं 26 लोग बाहरी राज्यों से संबंधित नशा तस्करी के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार किए।

इनमें 37 महिलाएं हिमाचल हैं, तो वहीं पांच महिलाएं बाहरी राज्यों से संंबंधित हैं। वर्ष 2018 में कांगड़ा पुलिस ने 20 किलो 267 ग्राम चरस बरामद की। इसके अलावा अफीम 251 ग्राम, हेरोइन 646 ग्राम 560 मिलीग्राम, नशीले कैप्सूल 28 हजार 783, टैवलेट्स 8 हजार 818, कफ सिरप की 509 बोतल और 4 लाख 74 हजार 830 रुपये नकद कांगड़ा पुलिस ने नशा तस्करों से कब्जे में लिए हैं। वहीं ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट के तहत कांगड़ा पुलिस ने 23 मामले दर्ज किए, जिनमें 24 लोग संलिप्त पाए गए। इसके अलावा अवैध खनन पर लगाम लगाते हुए 1569 चालान कर 83 लाख 42 हजार 680 रुपये जुर्माना वसूला।

वहीं मोटर व्हीकल एक्ट के तहत कांगड़ा पुलिस ने इस एक वर्ष की अवधि में 1 लाख 30 हजार 23 चालान कर 3 करोड़ 32 लाख 54 हजार 700 रुपये का जुर्माना सरकारी कोष में जमा करवाया।

साथ ही शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर शिकंजा कसते हुए 2810 चालान किए, जबकि चार लोगों को न्यायालय ने भी सजा दी। वहीं आबकारी एवं कराधान अधीनियम के तहत 669 मामले पुलिस ने रजिस्टर्ड किए। कांगड़ा पुलिस ने इस वर्ष नशा के संपूर्ण नाश के लिए जिला में नशा निवारण कमेटियों का भी गठन किया।

इस दौरान पुलिस ने 215 नशा निवारण समितियों के साथ वार्ता कर नशे पर अंकुश लगाने को योजना तैयार की। पुलिस की गठित नशा निवारण समितियों की बदौलत एनडी एंड पीएस एक्ट के तहत 19 केस दर्ज हुए, जबकि आबकारी एवं कराधान अधिनियम के तहत 93 और अन्य मामलों में 9 केस कांगड़ा पुलिस ने दर्ज किए।

नशा तस्करों के खिलाफ छेड़े गए अभियान के लिहाज से वर्ष 2018, जिला पुलिस के लिए काफी सफल रहा है। पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए नशा तस्करों को गिरफ्तार किया। वहीं नशा निवारण समितियों की बदौलत नशे के कारोबार पर अंकुश लगाने का प्रयास किया गया है, जो कि काफी हद तक सराहनीय रहा है। कांगड़ा पुलिस ने एनडी एंड पीएस एक्ट के तहत 270 मामले दर्ज कर 311 लोगों को हिरासत में लिया, जो कि गत वर्ष के मुकाबले कहीं अधिक हैं। इसमें 42 महिलाएं भी गिरफ्तार किया गया है। -संतोष पटियाल, एसएसपी, जिला कांगड़ा

यह भी पढ़ें – सवर्णों को आरक्षण एक ऐतिहासिक निर्णय – शांता

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams