हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला :  राजधानी में भारी बारिश और भूस्खलन के बीच 8 से अधिक लोगो की मौत और दर्जन भर लोगो के घायल होने का समाचार है। शिमला के आरटीओ आफिस के पास रविवार सुबह भूस्खलन में एक मकान के चपेट में आने से एक परिवार की दो बेटीयों समेत एक महिला की मौत हो गयी। साथ ही एक आदमी के इस हादसे में घायल होने की सूचना है। पुलिस के मुताबिक हादसे के तुरन्त बाद भवन से चार लोगों को निकाला गया था। लेकिन उसमें से एक को ही बचाया जा सका।

जिला के हाटकोटी में देर रात एक ट्रक पर बरसात में पत्थर गिरने से उसमें मौजूद एक व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं एक घायल व्यक्ति को सावड़ा अस्पताल में भर्ती किया है। बताया जा रहा है कि ट्रक जालंधर से सेब भरने को सावड़ा आया था।  जुब्बड़हट्टी के शाल-चनोग रोड पर सुगना गांव में एक गोशाला भूस्खलन के चपेट में आ गई। इस दौरान एक 40 वर्षीय महिला यह पशुओं को बांध रही थी वह भी चपेट में आ गई और उसकी मौत हो गई।
इसी तरह ठियोग की थथल खड़ में भारी पानी आने से वहां से गुजर रही एक महिला अपनी बेटी के साथ बह गई। जहाँ महिला पूर्णा आयु 53 का शव बरामद हो गया है वही उसकी बेटी की तलाश जारी है।उधर, शिमला के कुमारसैन में भी एक पेड़ के ढारे पर गिरने से उसमें मौजूद पांच नेपाली मजदूरों में से दो की मौके पर ही मौत हो गई।

केएनएच् के पास भूस्खलन

शहर में हो रही भारी बारिश के कारण, शिमला शहर के कमल नेहरू हस्पताल के प्रवेश द्वार के समीप 2 पेड़ गिर गए जिस कारण यातायात अवरुद्ध रहा। हालांकि नगर निगम कर्मचारियों की मुस्तैदी से हस्पताल के लिए आवाजाही को फौरी तौर पर खोल दिया गया है परंतु इस घटनाक्रम के दौरान पेड़ों की जड़ों को तथा घटनास्थल पर मलवे को हटाते हुए पास में खड़ी गाड़ियों को  नुकसान पहुंचा। इसी क्षेत्र में दंगा ढहने की दो घटनाओं में वहां खड़ी गाड़ियों को भी नुकसान पहुंचा तथा इस भूस्खलन के कारण इस क्षेत्र में निर्मित मकानों के ऊपर  पेड़ गिरने का खतरा बन गया है जिससे यहां के निवासी खौफ में रह रहे हैं।
-कृष्ण मुरारी

Published by surinder thakur

IT Head Himachal Dastak Media P. Ltd. Bypass Road kangra Kachiari H.P.