kidnapped

बड़सर के व्यक्ति का बंधक बनाए वीडियो हुआ वायरल

आतंकी संगठन ISI की तर्ज बने वीडियो से दहशत

हिमाचल दस्तक। बड़सर

बड़सर में अखबारे बांटने वाले एक आदमी सतीश बल्ली को डराते-धमकाते एक व्यक्ति का वीडियो वायरल किया गया है। वीडियो किसने व किस मकसद से वायरल किया गया है यह तो जांच का विषय है। 2 मिनट 16 सेकेंड के इस वीडियो को ISI की तर्ज पर वायरल किया गया है, उससे क्षेत्र में दहशत का माहौल बना है। वीडियो में दिखाया गया है कि किस तरह से कोतवाल बना एक गुर्गा सतीश बल्ली को अखबार बांटने पर धमकाता और डराता हुआ खौफजदा कर रहा है कि बताओ तुम्हें अखबार बांटने के लिए किसने भेजा है।

अखबारों में छपे शब्दों को नोचने पर अमादा आतंकी सा व्यवहार करता हुआ यह गुर्गा सतीश बल्ली पर लगातार मनमर्जी के बयान देने के लिए मजबूर करता भी दिखाया गया है। इस वायरल वीडियो में शुरू से ही एक सफेद गाड़ी पर बंधक बनाए सतीश बल्ली को एक सफेद कार के बोनट पर पेन और डायरी लेकर खड़ा किया गया है। इसमें उससे कुछ लिखवाने की कोशिश की जा रही है। इस बीच कई बार सतीश बल्ली को घेरे गुर्गो की फोन बेल भी बजती है, जो बंद कर दी जाती है।

इस वीडियो के वायरल होने के बाद सतीश बल्ली का कोई अता-पता नहीं

वीडियो रिकॉर्डिंग की 1 मिनट 59 सेकेंड पर एक दाढ़ी वाले शख्स की एंट्री होती है, बाकि गुर्गाे के चेहरे नहीं दिखाए गए हैं। वीडियो के अंत में गुर्गा सतीश बल्ली को धमकाता हुआ यह कहता है कि आप कहो कि आप पूरे होशो-हवास में यह बयान दे रहे हैं आप पर किसी का कोई दवाब नहीं है। अंजान स्थान पर बनाए इस वीडियो के वायरल होने के बाद सतीश बल्ली का कोई अता-पता नहीं है।

सतीश बल्ली के परिजन किसी अनहोनी की आंशका से सहमे हुए हैं। उल्लेखनीय है कि सतीश बल्ली पूर्व जिला पार्षद व बीजेपी का वरिष्ठ नेता रहा है। सतीश बल्ली बलदेव शर्मा के खिलाफ छपी खबरों के अखबारों को चुनाव में बांटने निकला था, जहां से उसे किडनैप किया गया है। सतीश बल्ली अब कहा है किसी को कोई खबर नहीं है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams