News Flash
JCB Operator Death Case Baddi Solan

शिमला में पोस्टमार्टम के परिजन और ग्रामीण सीधा थाने ले आए शव

मेरे बेटे की हत्या हुई है हमें इंसाफ चाहिए दोषियों को सामने लाओ: बलविंद्र कौर

जब तक कातिलों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती नहीं करेंगे अंतिम संस्कार

हिमाचल दस्तक, ओम शर्मा। बद्दी

रविवार शाम करीबन 7:30 बजे पंजाब के जिला रोपड़ से आए सैंकड़ों ग्रामीणों और मृतक जेसीबी चालक सर्वजीत के परिजनों ने पुलिस थाना बद्दी के गेट पर शव रखकर इंसाफ की गुहार लगाई। मृतक की माता और बहन के साथ भारी संख्या में महिलाएं आई थीं। जिन्होंने पुलिस थाने के बाहर जमकर विलाप किया और रुंधे स्वर में एक ही बात कही कि कातिलों को सामने लाओ।

शिमला के आईजीएमसी में पोस्टमार्टम के बाद परिजन और ग्रामीण मृतक के शव को घर ले जाने की बजाए सीधा बद्दी पुलिस थाना ले आए। परिजनों व ग्रामीणों ने बद्दी पुलिस थाने के गेट पर शव रखकर दोषियों को खिलाफ कार्रवाई की मांग उठाई। मृतक की भाई कुलबंत सिंह, माता बलविंद्र कौर, बहन परमजीत कौर और पिता सीता राम ने कहा कि उनके बेटे की हत्या हुई है। उनका आरोप है कि जेसीबी मालिक ने क्रैशर और कुछ लोगों के साथ मिलीभगत करके उनके बेटे को पैसों के लेनदेन के पीछे मौत के घाट उतारा है।

उनका आरोप है कि जेसीबी मालिक पैसे मांगने पर बेटे के साथ पहले भी मारपीट कर चुका है और उसी ने उनके बेटे को मौत के घाट उतारा है। करीबन शाम 7:30 बजे 200 से अधिक ग्रामीणों की भीड़ बद्दी पुलिस थाने के बाहर पहुंची। कुछ ही देर में ग्रामीणों ने चारपाई पर मृतक जेसीबी चालक सर्वजीत का शव रखकर इंसाफ की गुहार लगानी शुरु कर दी। मृतक की माता और बहन समेत परिजनों ने पुलिस के समक्ष विलाप करते हुए कार्रवाई की मांग उठाई। सूचना मिलते ही एएसपी बद्दी एनके शर्मा व तहसीलदार बद्दी मुकेश शर्मा बद्दी पुलिस थाना पहुंचे और उन्होंने ग्रामीणों को समझाया। पुलिस ने जेसीबी मालिक को भी पूछताछ के लिए थाना बुलाया।

JCB Operator Death Case Baddi Solan

क्या है मामला

शनिवार सुबह करीबन 10 बजे बद्दी पुलिस को सूचना मिली थी कि शीतलपुर के समीप सरसा नदी में एक जेसीबी मशीन के साथ किसी का शव लटका है। डीएसपी बद्दी अजय कुमार व एसएचओ लखवीर सिंह जब मौके पर पहुंचे थे तो पुलिस ने देखा कि जेसीबी मशीन के साथ चालक सर्वजीत ने कपड़े के परने के साथ फंदा लगाया हुआ था। हालांकि मृतक के शव मात्र 4 फीट की ऊंचाई पर लटका था और उसकी टांगे आधी मुड़ी हुई जमीन पर लटकी थी। जिसके चलते यह मामला पूरी तरह से संदिग्ध लग रहा था। जिस पर पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम आईजीएमसी शिमला में करवाया है।

क्या है परिजनों का आरोप

मृतक के परिजनों ने पुलिस को बताया था कि उनका बेटा ढेड़ साल से जेसीबी आप्रेटर का काम कर रहा था। लेकिन मालिक ने उसे पिछले 11 महीनों से तनख्वाह नहीं दी थी। एक सप्ताह पहले बड़े भाई की शादी के लिए जब उनके बेटे ने पैसे मांगे तो मालिक ने मात्र 20 हजार रुपए दिए। जेसीबी मालिक पहले भी उनके बेटे के साथ तनख्वाह मांगने पर मारपीट कर चुका है। परिजनों का आरोप है कि जेसीबी मालिक ने ही उनके बेटे को मौत के घाट उतारा है।

एएसपी बद्दी एनके शर्मा ने बताया कि ग्रामीणों को समझाया गया है, और उन्हें आश्वासन दिया गया है कि पुलिस पूरी ईमानदारी से जांच करेगी। मृतक का पोस्टमार्टम आईजीएमसी शिमला में करवाया गया है, और पुलिस पोस्मार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। रिपोर्ट के आधार पर ही जांच आगे बढ़ेगी। पुलिस ने जेसीबी मालिक को भी पूछताछ के लिए थाने लाई है।

 

संदिग्ध परिस्थितियों में जेसीबी से लटका मिला चालक का शव, हत्या की आशंका

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]