News Flash
fraud case bank

CID ने बैंक से मांगा रिकॉर्ड

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
राज्य सहकारी बैंक की खोलीघाट बैंक शाखा में किसान क्रेडिट कार्ड के नाम पर लाखों का घपले की जांच को आगे बढ़ाते हुए प्रदेश CID ने सहकारी बैंक से रिकॉर्ड मांगा है। CID के जांच अधिकारी द्वारा बैंक को पत्र लिखकर सप्ताह भर के अंदर रिकॉर्ड देने को कहा है। बैंक प्रबंधन की तरफ से अगर सप्ताह भर के अंदर रिकॉर्ड नहीं दिया जाता है तो सीआईडी फिर रिकॉर्ड लेने के लिए बैंक प्रबंधक को रिमांडर नोटिस जारी करेगी। सीआईडी सूत्रों के मुताबिक सहकारी बैंक की खोली घाट शाखा में हुए लाखों के गोलमाल मामले में जांच तभी शुरू की जाएगी, जब बैंक प्रबंधन द्वारा रिकॉर्ड उपलब्ध करवा दिया जाएगा।

शाखा में बैंक मैनेजर ने ही किसान क्रेडिट कार्ड के नाम पर लाखों का गोलमाल किया

उल्लेखनीय है कि प्रदेश सहकारी बैंक की नारकंडा के समीप खोलीघाट शाखा में बैंक मैनेजर ने ही किसान क्रेडिट कार्ड के नाम पर लाखों का गोलमाल कर दिया। बैंक प्रबंधन की शिकायत पर CID थाना शिमला में गत दिनों बैंक शाखा के निलंबित मैनेजर के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 465, 468, 471 के तहत मामला दर्ज किया था।

CID को दी गई शिकायत में खोलीघाट बैंक शाखा के निलंबित मैनेजर पर आरोप लगाया गया है कि वर्ष 2017 में शाखा के मैनेजर ने 5 किसान क्रेडिट कार्ड खाता धारकों को चैक जारी कर खुद ही चैक के जरिए खाते से रकम निकाल दी थी। बैंक मैैनेजर ने इस फर्जीवाड़े को किसान क्रेडिट कार्ड लिमिट खाता धारकों के जाली हस्ताक्षर कर अंजाम दिया था।

नारकंडा के खोलीघाट सहकारी बैंक शाखा में क्रेडिट कार्ड के नाम पर लाखों का गोलमाल मामले में बैंक प्रबंधन से रिकॉर्ड मांगा गया है। बैंक से रिकॉर्ड मिलने के बाद ही इस मामले में आगामी जांच शुरू की जाएगी। -संदीप धवल, एसपी, क्राइम

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams