News Flash
1984 riots

केंद्र से मांगी थी विस्तृत रिपोर्ट

नई दिल्ली
1984 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की मौत के बाद देश भर में फैले सिख दंगों के पीडि़तों के लिए थोड़ी राहत की खबर है। सुप्रीमकोर्ट ने दंगों से जुड़े 186 केस की फिर से जांच की अनुमति दे दी है। सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए एक कमिटी के गठन का निर्देश दिया है। पहले एसआईटी ने इन केसों को बंद कर दिया था।

बता दें कि 1984 दंगों की इन 186 केसों को SIT की टीम ने अपनी जांच के बाद बंद कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट में SIT के इस फैसले को चुनौती दी गई, जिसे कोर्ट ने मान लिया। 186 केसों की जांच के लिए गठित कमिटी में 3 सदस्य होंगे जिनकी अध्यक्षता होई कोर्ट के रिटायर्ड जज करेंगे। बता दें कि इस मामले की सुनवाई में केंद्र सरकार की ओर से गठित विशेष जांच दल द्वारा 1984 दंगों से संबंधित 293 में से 240 मामलों को बंद करने के निर्णय पर कोर्ट ने आपत्ति जताई थी।

नई SIT बनाने का दिया आदेश

1984 के सिख विरोधी दंगों मामले में एक नया मोड़ आया है। इस मामले की जांच के लिए सुप्रीमकोर्ट अब तीन सदस्यीय कमेटी का गठन करेगा। सुप्रीमकोर्ट ने सिख दंगे मामले के 186 केसों की दोबारा जांच करने के आदेश दिए हैं, जिन्हें SIT के द्वारा बंद कर दिया गया था। इसके लिए शीर्ष अदालत तीन सदस्यों की एक समिति नियुक्त करेगी, जिसके मुखिया उच्च न्यायालय के रिटायर जज होंगे। यह समिति 186 मामलों की दोबारा जांच करेगी।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams