Android Oreo

गूगल ने बताया के कंपनी के एंड्रॉयड मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम के वर्ज़न को ओरियो कहा

Google ने सोमवार को बताया किस कंपनी के Android mobile operating system के आने वाले Version को Oreo कहा जाएगा। Google ने किसी मिठाई के नाम Software Version को रखने की परंपरा कायम रखी है। माउंटेन व्यू की इस कंपनी ने कहा कि साझेदार निर्माताओं के लिए AOSP कोड जारी कर दिया गया है। और जल्द ही Android Oreo सॉफ्टवेयर अपडेट को गूगल पिक्सल, नेक्सस 5एक्स और नेक्सस 6पी स्मार्टफोन समेत पिक्सल सी और नेक्सस प्लेयर जैसे डिवाइस के लिए जारी किया जाएगा। इसके अलावा, ऐप में नोटिफिकेशन बैज भी आ रहे हैं। इससे यूज़र ऐप में आने वाली सभी नोटिफिकेशन को होम स्क्रीन पर ऐप आइकन से ही देख पाएंगे। बहरहाल, एक और नया फ़ीचर “snoozing” के जरिए यूज़र बाद में किसी उचित समय पर नोटिफिकेशन देख पाएंगे।

नई अपडेट से बूट स्पीड भी बेहतर होगी

नई अपडेट से बूट स्पीड भी बेहतर होगी। कंपनी ने दावा करते हुए कहा कि फोन स्विच ऑन करने से लेकर होम स्क्रीन तक पहुंचने में जो समय लगता है, गूगल पिक्सल फोन में यह दोगुनी तेजी से होगा। गूगल अलग-अलग ऐप में लॉगइन करने की प्रक्रिया को भी आसान बना रहा है, वेबसाइट में अभी उपलब्ध ऑटोफिल फ़ीचर उपलब्ध है वैसा ही ऐप में होगा। बहु-प्रतीक्षित एंड्रॉयड इंस्टेंट ऐप भी आएगा, जिसे जरिए इंस्टॉल करने की जगह ब्राउज़र से ही एक्सेस किया जा सकता है।

जैसा कि गूगल ने इस साल आयोजित डेवलेपर कॉन्फ्रेंस I/O में बताया था कि एंड्रॉयड ओ उर्फ एंड्रॉयड ओरियो को फोन में बेहतर यूज़र अनुभव देने के लिए रिलीज़ किया जाएगा। बता दें कि एंड्रॉयड ओ को सबसे पहले गूगल आईओ में पेश किया गया था। कंपनी ने ख़ासतौर पर बताया था कि कंपनी बैटरी लाइफ सुधारने पर ध्यान दे रही है। एंड्रॉयड ओ को ज़्यादा स्टेबल बनाने के लिए गूगल ने इसी साल पहला बीटा वर्ज़न रिलीज़ किया था।

एंड्रॉयड नूगा के रिलीज़ होने के करीब एक साल बाद अभी लगभग 13.5 प्रतिशत एंड्रॉयड डिवाइस पर नूगा वर्ज़न है। इन डिवाइस में स्मार्टफोन, टैबलेट, स्ट्रीमिंग डिवाइस और स्मार्ट टीवी भी शामिल हैं। नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक एंड्रायड पर चलने वाली 85 फीसदी डिवाइस अभी तक पिछले साल जारी एंड्रायड नूगा का भी अपडेट हासिल नहीं कर पाई है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams