Delhi

Delhi : नई दिल्ली:  दिल्ली मेट्रो के किराए को लेकर चली लंबी जद्दोजहद के बाद अंतत: आज मेट्रो का बढ़ा किराया लागू हो गया। अगर आज आप पांच किलोमीटर से अधिक की दूरी की यात्रा करेंगे तो आपको बढ़े हुए किराए के मद्देनजर 10 रुपए अधिक देने होंगे।

पांच माह में दूसरी बार बढ़े इस किराए से पांच किलोमीटर से अधिक दूरी की यात्रा करने वाले सभी यात्री प्रभावित होंगे। वहीं, दो से पांच किलोमीटर की यात्रा करने वालों को पांच रुपए अधिक का भुगतान करना होगा। नया किराया इस प्रकार है – दो किलोमीटर तक के लिए 10 रुपए, दो से पांच किलोमीटर तक के लिए 20 रुपए, पांच से 12 किलोमीटर के लिए 30 रुपए, 12 से 21 किलोमीटर के लिए 40 रुपए, 21 से 32 किलोमीटर के लिए 50 रुपए और 32 किलोमीटर से ज्यादा की यात्रा के लिए 60 रुपए। स्मार्ट कार्ड का इस्तेमाल करने वाले यात्रियों को प्रत्एक यात्रा पर दस फीसदी की छूट मिलती रहेगी। दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के अनुमान के अनुसार मेट्रो के कुल यात्रियों में से 70 फीसदी स्मार्ट कार्ड उपभोक्ता हैं। उन्हें सुबह आठ बजे तक, दोपहर को 12 बजे से पांच बजे के बीच और रात को नौ बजे से मेट्रो सेवाएं समाप्त होने तक सामान्य समय के दौरान 10 फीसदी की अतिरिक्त छूट मिलेगी।

डीएमआरसी के निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय डीएमआरसी बोर्ड ने इस मामले में हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया जिसके बाद इसकी घोषणा की गई।  बोर्ड ने कहा कि किराया निर्धारण समिति की सिफारिशों में दखल देने या बदलाव करने का बोर्ड के पास कोई कानूनी अधिकार नहीं है।  मुख्यमंत्री के आग्रह पर फैसले पर रोक लगाने के लिए बोर्ड ने रात आठ बजे निर्माण भवन में बैठक की। दिल्ली विधानसभा ने बढ़े किराए के खिलाफ एक प्रस्ताव पारित किया था। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया कि यह निजी कैब ऑपरेटरों को लाभ पहुंचाने की साजिश है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, बोर्ड में 16 निदेशकों में से दिल्ली सरकार के पांच निदेशक हैं, जिन्होंने इसका विरोध किया। हालांकि केंद्र ने हठी रवैया दिखाया। यह वृद्धि काफी अनुचित है।

केंद्र को आम आदमी का अधिक ख्याल रखना चाहिए था।  डीएमआरसी बोर्ड में दिल्ली सरकार के प्रतिनिधियों में दिल्ली के मुख्य सचिव, प्रधान सचिव (वित्त) और परिवहन आयुक्त शामिल हैं। डीएमआरसी रिण और बिजली की बढ़ती दरों आदि के कारण काफी समय से नुकसान उठाने की बात कहती रही है। नया किराया मेट्रो की ब्लू, एलो, रेड, ग्रीन और वायलेट लाइन पर लागू होगा।  एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन (ऑरेंज लाइन) के किरायों में कोई बदलाव नहीं होगा। जब दिल्ली मेट्रो ने 25 दिसंबर 2002 को अपनी सेवाएं शुरू की थीं तो न्यूनतम किराया चार रुपए और अधिकतम किराया आठ रुपए था।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams