News Flash
rahul gandhi

एक सवाल के जवाब में बोले कांग्रेस अध्यक्ष

 नई दिल्ली
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव के बाद अगर सहयोगी दल चाहेंगे तो वह जरूर प्रधानमंत्री बनेंगे। गांधी ने यह भी कहा कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को बहुत अधिक सीटें मिलेंगी। हिंदुस्तान लीडरशिप समिट में गांधी ने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि विपक्षी दलों के साथ बातचीत करने के बाद यह फैसला किया गया कि चुनाव में दो चरण की प्रक्रिया होगी। पहले चरण में हम मिलकर भाजपा को हराएंगे। चुनाव के बाद दूसरे चरण में हम (प्रधानमंत्री के बारे में) फैसला करेंगे।

यह पूछे जाने पर कि अगर विपक्षी दल ओर सहयोगी दल चाहेंगे तो उनका रुख क्या होगा, इस पर गांधी ने कहा, अगर वे चाहेंगे तो मैं निश्चित तौर (पर बनूंगा)। दअरसल, उनसे कर्नाटक विधानसभा चुनाव के समय उनके उस बयान का हवाला देते हुए सवाल किया गया था जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी हुई तो वह प्रधानमंत्री बनेंगे। गांधी ने कहा कि स्वास्थ्य क्षेत्र में भारत की वही स्थिति हो सकती है जो आज तेल के क्षेत्र में सऊदी अरब की है। नरेंद्र मोदी सरकार की नीतियों पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा, मुझे नहीं लगता है कि आप किसी एक वर्ग के बारे में सोचकर देश को विकसित कर सकते हैं।

संवाद से निकलेगा समाधान

राहुल गांधी ने कहा कि जो भी किसान चाहता है आप उनकी हर बात को पूरी नहीं कर सकते। जो भी उद्योग जगत चाहता है उनकी सारी मांग को आप पूरा नहीं कर सकते। लेकिन आपको इनके साथ संवाद करना पड़ेगा। संवाद से ही समाधान निकलेगा। गांधी ने कहा, कोई भी गंभीर अर्थशास्त्री नोटबंदी के पक्ष में नहीं होगा। यह अतार्किक और हास्यास्पद चीज थी।

मोदीजी, पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाइए

नई दिल्ली। सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल की कीमतों में 2.50 रुपए प्रति लीटर की कटौती किए जाने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि जनता की परेशानी को कम करने के लिए पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी के दायरे में लाया जाना चाहिए। गांधी ने ट्वीट कर कहा, आदरणीय मोदीजी, आम जनता पेट्रोल-डीजल के आसमान छूते दामों से बहुत ज्यादा परेशान है। आप कृपया पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में ले आइए।

…तो मैं तीन काम करूंगा

सरकार बनने की स्थिति में अपनी योजना का उल्लेख करते हुए गांधी ने कहा, कांग्रेस सत्ता में आई तो मैं तीन काम करूंगा। पहला काम छोटे और लघु उद्यमियों को मजबूत करूंगा, दूसरा- किसानों को यह एहसास कराऊंगा कि वे महत्वपूर्ण हैं। मेडिकल और शैक्षणिक संस्था खड़ी करेंगे।

मेरे मंदिर जाने से भाजपा को परेशानी होती है : राहुल

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि उनका मंदिर जाना सॉफ्ट हिंदुत्व नहीं है, लेकिन इससे भाजपा को परेशानी होती है क्योंकि वह हर चीज पर अपना एकाधिकार चाहती है। उन्होंने कहा कि देश में इस समय वैचारिक युद्ध चल रहा है और आरएसएस के खिलाफ इस वैचारिक लड़ाई का केंद्र कांग्रेस है।

हिंदुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट में गांधी ने मंदिर जाने के बारे में पूछे जाने पर कहा, यह दिलचस्प है। मैं मंदिर, गुरुद्वारा और मस्जिद 16 वर्षों से जा रहा हूं। लेकिन गुजरात चुनाव से इसका प्रचार होने लगा है। मुझे लगता है कि इस तरह की चीजों से भाजपा को परेशानी होती है। उन्हें लगता है कि सिर्फ वो ही मंदिर जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें – दशहरे में हुड़दंग मचाने वालों की खैर नहीं

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams