News Flash
special preparations

शेड्यूल प्लान करें

जब भी बोर्ड एग्जाम की तैयारियां शुरू करें, तो सबसे पहले अपने वीक एरियाज (कमजोर क्षेत्रों) पर काम करना शुरु करें और इनको एक्स्ट्रा टाइम दें। इसके लिए बेस्ट यह है कि आप टाइम टेबल बना लें। इसकी मदद से आप अपने अनुसार यह तय कर सकते हैं कि वीक एरियाज को कितना समय देना है। हालांकि वीक एरियाज पर फोकस करते समय दूसरे विषयों को समय देना न भूलें, क्योंकि बोर्ड एग्जाम में सारी तैयारी करना जरूरी होता है।

नोट्स बनाएं

कम समय में पूरा सिलेबस रिवाइज करना नामुमकिन सा होता है। इसलिए बोर्ड एग्जाम से पहले शॉर्ट नोट्स, मेन प्वाइंट्स की लिस्ट या जवाबों का याद रखने के लिए डायग्राम्स बनाएं। नोट्स लिखना और फ्लो चार्ट बनाना हमेशा रटने से ज्यादा बेहतर होता है, क्योंकि इससे चीजें जल्दी याद होती हैं और मेमोरी में लंबे समय तक रहती हैं।

पिछले साल के क्वेश्चन पेपर सॉल्व करें

अगर आप जानना चाहते हैं कि बोर्ड एग्जाम में किस तरह के सवाल पूछे जाते हैं, तो इसके लिए आपको पिछले कुछ सालों के क्वेश्चन पेपर्स सॉल्व करने चाहिए। पुराने क्वेश्चन पेपर्स सॉल्व करने से आपका कॉन्फिडेंस बढ़ता है। साथ ही यह भी समझने में मदद मिलती है कि बोर्ड एग्जाम की तैयारी कैसे करनी चाहिए। इसके अलावा आपको फॉर्मेट समझने में भी मदद मिलती है, जिससे आप यह पता लगा सकते हैं कि किस सवाल को कितना समय देना चाहिए।

ग्रुप स्टडी करें

हर एक स्टूडेंट का कोई न कोई क्षेत्र कमजोर जरूर होता है। इसके लिए वे ग्रुप स्टडी का सहारा ले सकते हैं। कुछ टॉपिक्सऐसे होते हैं, जिन्हें आप टीचर से खुलकर नहीं पूछ पाते हैं, लेकिन ग्रुप स्टडी में आप अपने दोस्तों से उस टॉपिक के बारे में खुलकर पूछ सकते हैं। ग्रुप स्टडी की मदद से चीजों को जल्दी सीखने में मदद मिलती है। इसके अलावा अगर आपके पास किसी सब्जेक्ट के नोट्स नहीं हैं, तो ग्रुप स्टडी की मदद से आप अपने दोस्तों से नोट्स अरेंज कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें – स्कॉलरशिप लेकर करें वल्र्ड की टॉप यूनिवर्सिटी में पढ़ाई

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]