लोकसभा सीट से टिकट के दावेदारों पूर्व मंत्री जीएस बाली और सुधीर शर्मा के समर्थकों के बीच नारेबाजी की होड़ लग गई ,बाली सुधीर के समर्थकों ने की खूब जमकर नारेबाजी , तनाव पूर्ण हो गया माहौल

हिमाचल दस्तक :चंदन महाशा । कांगड़ा :  मटौर में जिला कांग्रेस कमेटी कांगड़ा का कार्यकर्ता सम्मेलन हुआ। इस अवसर पर हिमाचल कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल और सह प्रभारी गुरकिरत सिंह ने शिरकत की।

हिमाचल कांग्र्रेस प्रभारी और सह प्रभारी का यहां पहुंचने पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से स्वागत किया। पसीने निकाल देने वाली गर्मी में भी कार्यकर्ताओं का उत्साह देखने को काम नहीं लग रहा था। हालांकि यह कार्यकर्ता सम्मेलन था। लेकिन, ऐसा वक्त भी आया जब यह कार्यक्रम लोकसभा चुनाव की टिकट को लेकर शक्ति प्रदर्शन का अखाड़ा बन गया। कांगड़ा लोकसभा सीट से टिकट के दावेदारों पूर्व मंत्री जीएस बाली और सुधीर शर्मा के समर्थकों के बीच नारेबाजी की होड़ लग गई। समारोह स्थल पर एक तरफ सुधीर शर्मा जिंदाबाद के नारे लग रहे थे तो दूसरी तरफ बाली के समर्थन में नारेबाजी हो रही थी।
कुछ देर के लिए माहौल तनावपूर्ण सा हो गया। नारेबाजी बढ़ती देख पूर्व मंत्री जीएस बाली को खुद कार्यकर्ताओं को समझाने के लिए आना पड़ा। उन्होंने व्यक्तिगत नारे न लगाकर कांग्रेस पार्टी के नारे लगाने की हिदायत उपस्थित कार्यकर्ताओं को दी। वहीं, जिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष सुमन वर्मा भी कार्यकर्ताओं को नारेबाजी न करने से रोकती नजर आईं। यह सब हिमाचल कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल की उपस्थित में हुआ। इसके बाद नारेबाजी कर रहे दोनों पक्ष शांत हुए और सम्मेलन शुरू हुआ।
रजनी पाटिल ने उपस्थित पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को एकजुटता का पाठ पढ़ाया। साथ ही आगामी लोकसभा चुनाव के लिए डट जाने को कहा। उन्होंने कार्यकर्ताओं की फीडबैक भी ली। इस अवसर पर पूर्व मंत्री जीएस बाली, सुधीर शर्मा, सीएलपी लीडर मुकेश अग्निहोत्री, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू, विधायक आशीष बुटेल, संजय रत्न, अजय महाजन यादविंद्र गोमा, किशोरी लाल, केवल सिंह पठानिया, चौधरी चंद्र कुमार आदि उपस्थित रहे।
रजनी पाटिल के पहुंचने से पहले भी सम्मेलन स्थल पर माहौल कुछ देर के लिए तनावपूर्ण हुआ था। हुआ यूं कि सुधीर शर्मा जब अपने समर्थकों सहित पहुंचे तो उनके समर्थकों ने नारेबाजी शुरू कर दी। पैलेस के गेट से लेकर वेन्यू स्थल के मेन गेट तक नारेबाजी करते हुए गए। उनके समर्थकों ने सुधीर भाई बल्ले बल्ले, बाकी सब थल्ले थल्ले की नारेबाजी शुरू कर दी। इसी बीच बाली समर्थकों ने भी नारेबाजी शुरू कर दी। फिर एक कांग्रेस नेत्री के कहने पर रघुवीर सिंह बाली ने उन्हें ऐसा करने रोका और पार्टी के पक्ष में नारे लगाने के लिए कहा।

खुद तो आए नहीं, होर्डिंग्स से भी गायब दिखे वीरभद्र

सम्मेलन स्थल पर सोनिया गांधी, राहुल गांधी, रजनी पाटिल के साथ पूर्व मंत्री जीएस बाली, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू और आनंद शर्मा के होर्डिंग्स तो नजर आए। लेकिन, पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह गायब थे। वेन्यू के अंदर और बाहर ऐसा ही देखने को मिला। पूरे वेन्यू में अगर कहीं वीरभद्र सिंह दिखे तो वह भी मेन होर्डिंग में। हालांकि वीरभद्र सिंह पहले ही सम्मेलन में शिरकत करने को मना कर चुके हैं। पर वीरभद्र सिंह के होर्डिग्स न होना कई सवाल खड़े कर रहा है।

सरकारी गाड़ी में पहुंची मेयर

नगर निगम धर्मशाला की मेयर रजनी ब्यास कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में भाग लेने के लिए सरकारी गाड़ी में पहुंची। हालांकि निजी कार्यक्रम में सरकारी गाड़ी का प्रयोग नहीं किया जा सकता है।

रिपोर्टर चंदन महाशा

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams