हिमाचल प्रदेश सरकार गौ धन की सुरक्षा के लिए उठाए कड़े कदम,शिव सेना हिन्द राज्य भर में जल्द करेगी आंदोलन: निशांत शर्मा

चंदन महाशा। कांगड़ा : शिव सेना हिन्द की एक बैठक कांगड़ा में आयोजित की गई। इस बैठक में  पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष निशांत शर्मा नरेंद्र धीमान हिमाचल प्रदेश अध्यक्ष,वेद अमरजीत शर्मा राष्ट्रीय कौर कमेटी चैयरमेन व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, इशांत शर्मा यूथ अध्यक्ष पंजाब,बिन्नी वर्मा पंजाब सचिव , विशाल अग्निहोतरि युवा उपाध्यक्ष ,  महिलासोनिया ठाकुरविशेष रूप से शामिल हुए।

इस मौके निशांत शर्मा ने हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला के जसवां-परागपुर क्षेत्र में पड़ते गुरालधार के पट्टी गाव के युवक सतविंदर सिंह द्वारा जंगल में लगी आग को बुझाने के दौरान मौत हो जाने पर गहरा दुख जताया है। निशांत शर्मा ने कहा कि सतविंदर व उस साथी चाहते तो गाव के जंगलों में लगी आग को देखकर भाग कर सुरक्षित जगह पर जा सकता था मगर निःस्वार्थता और समाज के लिए कुछ करगुजरने की लगन ने उस के पैरों को वापिस नही जाने दिया । अन्य गांवों में रह रहे लोगों की सुरक्षा व उन के घर जलकर राख न हो जाये इस लिए वो अन्य साथियों सहित दहकते जंगल की आग बुझाने के लिए प्रयास करता रहा। उन्होंने कहा कि अफसोस जंगल की आग ने उसे अपनी चपेट में ले लिया।आखिर हमने एक निस्वार्थ वीर समाज सेवक को हमेशा के लिए खो दिया। और अन्य साथी बुरी तरह से घायल हो गए। निशांत शर्मा ने बताया कि दुख की बात ये है कि तीन महीने पूर्व सतविंदर सिंह के पिता का देहांत हुआ था। अब सतविंदर की मौत से परिवार गहरे सदमे में है।इस दुखद घटना से परिवार पूरी तरह से टूट चुका है।
शर्मा ने हिमाचल के सीएम से मांग की है कि सतविंदर सिंह व घायल हुए अन्य लोगों के परिवार के सदस्य को सरकारी नॉकरी दी जाए। उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से सतविंदर सिंह के परिवार को 50 लाख और घायलों को 25 लाख का मुआवजा दिया जाना चाहिए। इस के साथ साथ दूसरों की जान बचाने के लिए खुद की जान जोखिम में डालने पर मृतक सतविंदर के परिवार और अन्य घायलों को वीरता पुरस्कार देना चाहिए। और ऐसे हादसों पर भविष्य में तुरंत काबू पाने के लिए सतविंदर सिंह के नाम पर एक हेल्पलाइन नंबर जारी करना चाहिए ताकि ऐसे हादसों से जल्द से जल्द निपटा जा सकें। शर्मा ने कहा कि कईयों की जान बचाने के लिए सतविंदर सिंह शहीद हुआ है । सरकार को सरकारी स्कूल और रोड का नाम सतविंदर सिंह के नाम पर रखना चाहिए। ताकि आने वाली पीढ़ियों के लिए मिसाल पैदा हो सके उन्हें प्रेरणा मिल सके कि समाज के लिए किस प्रकार से निस्वार्थ होकर सेवा करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार सतविंदर सिंह के नाम पर आग पीड़ितों की मदद के लिए कोई खास राहत व मदद योजना शुरू करनी चाहिए। इस अवसर पर नरेंद्र धीमान अध्यक्ष हिमाचल प्रदेश साथ साथ सड़कों पर बेसहरा हालत में घूम रहे गौधन पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि सरकार को गौधन की सुरक्षा व्यवस्था के लिए कड़े कदम उठाने चाहिए। उन्होंने कहा कि जल्द ही पूरे प्रदेश भर में शिव सेना हिन्द गौधन की सुरक्षा के लिए आंदोलन करेगी। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के धार्मिक स्थलों की तरफ जाने वाले रास्तों में पंजाब हरियाणा दिल्ली से आने वाले श्रद्धालुओं को हिमाचल पुलिस नाके लगाकर बेवजह परेशान कर वसूली करती है। इस पर हिमाचल डीजीपी को तुरंत एक्शन लेने चाहिए। ताकि श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार से तंग न किया जाए।
उन्होंने कहा कि ट्रैफिक पुलिस में लंबे समय से ड्यूटी में तैनात ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की हर 4-6 महीने में बदली की जानी चाहिए क्यों कि एक ही एरिया में लगातार ड्यूटी करने के कारण ट्रैफिक पुलिस कर्मी श्रद्धालुओं से मोटी वसूली करते है। उन्होंने कहा कि हिमाचल पुलिस ईमानदारी में नंबर वन है मगर ट्रैफीक पुलिस कर्मी देश भर से आने वाले श्रद्धालुओं से वसूली करके देश भर में हिमाचल प्रदेश की छवि पर धब्बा लगा रहे है। पेयजल के संकट पर सरकार को आड़े हाथों लेते हुए निशांत शर्मा ने कहा कि हिमाचल में जहाँ एक और लोग आग लगने की  वजह से तबाह हो रहे है।उन के घर जलकर राख हो रहे है वही दूसरी ओर शिमला में पेय जल के संकट की वजह से 6 लाख लोग परेशानी का सामना कर रहे है।
उन्होंने कहा कि सरकार बताये की राज्य की जनता के लिए सरकार क्या कदम उठा रही है।पानी की किल्लत से लोग आंदोलन करने को मजबूर है। कई इलाकों में पानी के टैंकर पहुंच रहे मगर अधिक्तर इलाको में लोग पानी की एक बूंद के लिए तड़प रहे है। उन्होंने कहा सरकार आखिर कर क्या रही। हाथ पर हाथ धरे बैठी हिमाचल सरकार लोगों को पानी की किल्लत से निजात दिलाने के लिए विफल हो रही है।उन्होंने कहा की नरेंद्र धीमान लगातार ड्रग तस्करो और गौ तस्करों के खिलाफ आवाज उठा रहे है । जिस के बाद उन्हें लगातार जान से मारने की धमकियां मिल रही है। उन्होंने कहा कि हिमाचल पुलिस को उन की सुरक्षा के लिए पुख्ता इंतजाम करने चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर नरेंद्र धीमान को खरोंच भी आई तो शिव सेना हिन्द चुप नही बैठेगी।  देश भर में नरेंद्र धीमान के पक्ष में विरोध प्रदर्शन किए जाएंगे।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams