News Flash

चंद्रमोहन चौहान, ऊना। डीजल के दाम बढऩे के कारण बस आप्रेटरों ने किराए में भी वृद्धि करने की मांग उठाई है। जिला ऊना निजी बस आप्रेटर ने पंजाब की तर्ज पर न्यूनतम किराया 10 रुपये व बस किराया में तत्काल 50 प्रतिशत की वृद्धि करने की मांग उठाई है।

निजी बस आप्रेटर ने मंगलवार को प्रदेश अध्यक्ष राजेश पराशर की अगुवाई में डीसी ऊना राकेश प्रजापति से मिले और  बस किराया बढ़ाने के लिए सीएम जयमराम को ज्ञापन भेजा। निजी बस आप्रेटरों का कहना है कि मांग को लेकर 21 जून को सांकेतिक हड़ताल की जाएगी। अगर प्रदेश सरकार उनकी मांगों की अनदेखी करता है, तो 27 जून को अनिशचितकालीन हड़ताल की जाएगी।
राजेश पराशर का कहना है कि डीजल के बहुत अधिक दाम बढऩे के कारण बसे चलाने में निजी बस आप्रेटर असमर्थ होते जा रहे हैं। ऐसे हालात में हमारी मांग बस किराए में तत्काल 50 प्रशित की वृद्धि और न्यूनतम बस किराया पंजाब की तर्ज पर 10 रुपये किया जाए। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार द्वारा बसों पर अनैतिक तरीके से ग्रीन टैक्स लगाया है। एक बस पर 5 बार ग्रीन टैक्स वसूला जा रहा है। सरकार उसे भी तत्काल प्रभाव से वापिस लें। उन्होंने कहा कि स्टेट परिवहन प्रधिकरण द्वारा यह फैसला लिया गया है कि बस परिमिट पर पांच वर्ष से ज्यादा पुरानी बस नहीं चलाई जाएगी।
हमारी मांग है कि इस शर्त को हटाया जाए। उन्होंने कहा कि मांगों को लेकर 21 जून को सांकेतिक धरना और अनदेखी पर 27 जून को अनिशिचितकालीन हड़ताल की जाएगी। इस अवसरपर पंकज दत्ता, दिनेश सैणी, वीरेंद्र कुमार, शाम लाल, राम किशन, गुलजारी लाल, दिपांकर परमार, शशी शर्मा, राजीव कुमार, संजीव कुमार, अजय कुमार, अरूण कुमार, हंसराज व कुलदीप कुमार सहित अन्य उपस्थित रहे।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams