हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला : प्रदेश में एनसीडीसी की एक स्पेशल ब्रांच खोली जाएगी।

एनसीडीसी यानि कि नेशनल सेंटर फॅार डीजीज कंट्र्रोल की राज्य में खोली जाने वाली इस ब्रांच के माध्यम से देश में फैलने वाले कई रोगों को समय पर कंट्रोल करके उसके डेथ रेट को कम किया जा सकता है।  शिमला के होटल मरीना में एनसीडीसी और डब्लूएचओ के संयुक्त तत्वाधान में सोमवार को एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने बताया कि प्रदेश में एनसीडीसी की ब्रांच खुलने से कई बीमारियों पर सरकार जल्द रोकथाम पर कदम उठा पाएगी।

कार्यशाला में मौजूद एनसीडीसी के निदेशक डॉ. सुजीत गुप्ता का कहना है कि देश में क ई ऐसे रोग फैलते हैं जिनका बचाव निसंदेह किया जा सकता है, यदि समय पर कदम उठा लिया जाए। बताया जा रहा है कि जो राज्य में ब्रांच खोली जाएगी उसमें केंद्र से ट्रेंड स्टॉफ दिया जाएगा। कार्यशाला में एनसीडीसी के निदेशक देश में रोगों को निपटने के लिए सामने आने वाली चुनौतियों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि आजकल जानवरों को होने वाले 70 फीसदी रोग इंसानों को हो रहे हैं जिसके कारण उसे कंट्रोल करना चुनौती बनता जा रहा है। इसमें स्क्रब टायफस, इबोला, स्वाइन फ्लू जैसे रोग शामिल है। उन्होंने कहा कि इन रोगों से प्रभावितों के आंकड़ा कम किया जा सकता है यदि इसके बचाव के लिए सरकार समय पर निर्देश जारी करें।

सरल भाषाओं में जनता को किया जाएगा जागरूक : परमार

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार का कहना है कि जानवरों से फैलने वाले रोगों पर प्रदेश स्वास्थ्य विभाग के काफी कंट्रोल किया है। इसमें स्क्रब टायफस और स्वाइन फ्लू के रोग शामिल है। प्रदेश कोशिश करेगा कि सरल भाषाओं में लोगों को इन रोगों के बारे में जागरूक किया जाए। जिसमें क्षेत्रीय भाषाओं से जनता को जागरूक करने पर भी काम किया जाएगा।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams