News Flash
Demand for the President and the Governor

 ग्रामीणों ने बैठक में लिया फैसला, दो दिन चलाएंगे हस्ताक्षर अभियान ,  एसडीएम नालागढ़ के माध्यम से भेजेंगे राष्ट्रपति व राज्यपाल को ज्ञापन , सीईटीपी और कचरा प्लांट की बदबू और गंदगी से दुखी हैं लोग

धर्मपाल कौशिक। मानपुरा : दून हल्के की ग्राम पंचायत मलपुर के तहत गांव निचला मलपुर और भुड्ड निचली के ग्रामीणों की बैठक रविवार को भुड्ड में संपन्न हुई।

बैठक सीईटीपी केंदूवाला और साथ लगते कचरा प्लांट से दुखी लोग बुधवार को एसडीएम नालागढ़ के समक्ष पेश होंगे। भारी संख्या में ग्रामीणों ने एकत्रित होकर भारत के राष्ट्रपति व प्रदेश के राज्यपाल से इच्छा मृत्यू की मांग एसडीएम के माध्यम से करेंगे। जबकि इससे पहले ग्रामीण सीईटीपी प्रबंधन और प्रशासन को 10 दिन का अल्टीमेंट भी दे चुके हैं। बुधवार को हुई ग्रामीणों की बैठक में लोगों ने सीईटीपी और कचरा प्लांट के खिलाफ आंदोलन को तेज और उग्र करने का फैसला लिया है। तीन दिन पहले ग्रामीण सीईटीपी और प्रदूषण बोर्ड के अधिकारियों का रास्ता रोकने का भी अल्टीमेंटम दे चुके हैं।

लोगों का कहना है कि दिन व दिन नासूर हो चुकी समस्या पर न तो सीईटीपी, न ही प्रदूषण विभाग और न ही प्रशासन तथा सरकार की नींद टूट रही है। बैठक में ग्रामीणों ने बताया कि केंदूवाला स्थित सीईटीपी प्लांट और बिल्कुल साथ सट्टे कचरा प्लांट की बदबू ने निचला मलपुर और निचली भुड्ड के लोगों का जीना दूभर कर दिया है। लंबे समय से ग्रामीण इस बदबू से निजात दिलाने की मांग सीईटीपी प्रबंधन व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से कर चुके हैं। बावजूद इसके समस्या का कोई समाधान नहीं निकल रहा।

 रिश्तेदारों ने छोड़ दिया घर आना, न सांस ले सकते न रोटी उतरती गले से

बैठक के दौरान लोगों का गुस्सा सातवें आसमान पर था और लोगों ने इस दौरान आंदोलन को तेज करने की चेतावनी के साथ साथ सीईटीपी प्रबंधन, प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड तथा सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। ग्रामीणों ने रोष भरे स्वरों में बताया कि बदबू के कारण उनके रिश्तेदारों ने घर आना जाना छोड़ दिया है। सीईटीपी व कचरा प्लांट की तेज बदबू से सांस लेना और दो वक्त की रोटी खाना तक मुश्किल हो गया है। लोगों ने बताया कि जब से यह सीईटीपी प्लांट और कचरा प्लांट लगा है

निचली भुड्ड व निचला मलपुर में बेतहाशा मक्खियां व मच्छर है। बदबू और मक्खी-मच्छरों की भरमार के कारण लोगों को अपने घरों के दरवाजे बंद करके कैद होना पड़ता है। बैठक में ग्रामीणों ने फैसला लिया कि दो दिन हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा, जिसके बाद बुधवार को भारी संख्या में ग्रामीण एसडीएम नालागढ़ के समक्ष पेश होंगे और एक ज्ञापन भेजकर राष्ट्रपति व राज्यपाल से सामूहिक इच्छा मृत्यू की मांग की जाएगी। लोगों का कहना है कि या तो उन्हें इस समस्या से निजात दिलाई जाए या फिर उन्हें सामूहिक इच्छा मृत्यू दी जाए।

 निचली भुड्ड व निचला मलपुर के यह ग्रामीण रहे बैठक में उपस्थित

बैठक में राजेश कुमार, जसविंद्र कुमार, लबू राम, सुदेश, राजेंद्र कुमार, सोम पंडित, नरेंद्र सिंह, अंाचल सैणी, नसीम दास, सुखविंद्र सिंह, धर्मपाल सैणी, गुरजीत सिंह, चरण दास, विक्रम, सर्वजीत सैणी, सोनू पंडित, अमित सैणी, सतनाम सैणी, कृष्ण, मंजीत सिंह, बलजीत सिंह, अनीष सैणी, संदीप सैणी, आदित्य सैणी, गुरमीत सिंह, शिव कुमार, राजेंद्र कुमार, नछत्तर सिंह, विजय, मोहन सिंह, अवतार सिंह, जसवीर सिंह, बालक राम, पंच नछत्तर सिंह, धर्मपाल शर्मा, रेखा सैणी, कुलदीप कौर, गुरदेव कौर, सलोचना देवी, ममता रानी, शोभा देवी, पम्मी देवी, प्रेम लता, अमनदीप कौर, ऋतु सैणी, शुभलता समेत भारी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।

……… सिटी रिपोर्टर मानपुरा ………

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams