News Flash

हौंसला हो तो गुरबत को दी जा सकती है मात

हिमाचल दस्तक। नूरपुर : मन में लग्न और अपना लक्ष्य हासिल करने का जुनून हो तो कठिन राह भी आसान लगती है। बड़ी से बड़ी चुनौतियां भी आदमी के हौंसले की उड़ान को नही रोक सकती है और न ही उसकी दिव्यांगता में बाधा बनकर उसकी सफलता को अपनी बेडिय़ों में जकड़  कर रख सकती हैं ।

आदमी में अगर होंसला हो तो गुरबत को भी मात दी जा सकती है। इसी हौंसले के दम पर चुनौती से पार पाकर फतेहपुर उपमंडल की कुट पंचायत के  बदवाड़ा गांव के अर्जुन सिंह ने एक नई मिसाल पेशकर समाज मे अपनी एक विशेष पहचान बना ली है। गरीब परिवार से संबंध रखने वाले 25 वर्षीय अर्जुन बचपन से ही दोनों पैरों से दिव्यांग हैं।
बाहरवीं तक की अपनी पढ़ाई पूरी करने के उपरांत वह नौकरी की तलाश करने लगे, परंतु काफी मेहनत करने के बाद भी नौकरी न मिलने पर उन्होंने हार नही मानी। हालांकि अर्जुन प्रदेश सरकार की सामाजिक पेंशन योजना के तहत दिव्यांगता पुनर्वास भत्ता  योजना के तहत मिलने वाली राशि से अपना दैनिक गुजारा कर रहे थे, परंतु उससे उनके परिवार का जीवनयापन कठिन था। तब उन्होंने नौकरी की इच्छा को छोड़कर स्वरोजगार को अपनाने का मन बनाया।
 परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण उन्होंने केसीसी बैंक फतेहपुर से 2 लाख रुपये का ऋण लेकर जसूर-तलवाड़ा मुख्य मार्ग पर बदवाड़ा में गन्ने के जूस की रेहड़ी लगाकर काम शुरू किया। उनके पास इतनी जमीन नहीं थी कि वह उस पर गन्ना उगा सकें।  गन्ने की खेती करने के लिए उन्होंने लोगों से जमीन किराए पर लेकर परिवार के अन्य सदस्यों के सहयोग से उस पर गन्ना पैदा करना शुरू किया। अब वह किराये के इन खेतों पर अच्छा गन्ना ऊगा कर जूस के लिए पूरा साल इस्तेमाल में लाते हैं। इसके अतिरिक्त वह गन्ने को अच्छी तरह से पानी से साफ करने के पश्चात ही जूस निकालने के लिए प्रयोग में लाते हैं।
 वह साल में  लगभग 11 महीने गन्ने का जूस बेचते हैं । इसके अतिरिक्त वह अपने जूस कॉर्नर पर टिक्की, बर्गर तथा चाऊमीन भी बेचते हैं। वह अपने छोटे से कारोबार से प्रतिदिन लगभग 2 हजार रुपए की विक्री कर अच्छा लाभ कमा रहे हैं। इस विषय में तहसील कल्याण अधिकारीए फतेहपुर राजिंद्र मोहन शर्मा का कहना है कि प्रदेश सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा दिव्यांगों के लिए दिव्यांग पुनर्वास भत्ता, दिव्यांग विद्यार्थियों के लिए चत्तरवर के अतिरिक्त अपना  स्वरोजगार शुरू करने के लिए सस्ती ब्याज दरों पर आसान किस्तों में  ऋण की  सुविधा भी उपलब्ध करवा रहा है।
(विनय महाजन)

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams