हिमाचल दस्तक : ऊना : आज बेटियां भी बेटों से किसी भी क्षेत्र में कम नहीं हैं। जहां पहले बेटों को ही घर का सहाना समझा जाता था, लेकिन अब बेटियों ने भी कड़ी मेहनत, लगन और दृढ़ संकल्प के दम पर परिवार का सहारा बन रही है।
इसी सोच को लेकर ऊना मुख्यालय से करीब तीन किलोमीटर दूर स्थित हिमोत्कर्ष कन्या महाविद्यायल बेटियों को शिक्षा दे रहा है, ताकि बेटियां मेहनत, लगन और दृढ़ संकल्प के दम पर आगे बढ़ माता-पिता, कॉलेज, जिला सहित प्रदेश का नाम रोशन कर सकें। हिमोत्कर्ष कन्या महाविद्यालय एकमात्र ऐसा कॉलेज जो सिर्फ छात्राओं के लिए बनाया गया है। लगभग 18 वर्ष पहले शुरू हुए कन्या महाविद्यालय ने सफलता की कई बुलदियां हासिल की हैं। इस कॉलेज की स्थापना लाला जगत नारायण के नाम से की गई है, जिसमें पदम श्री विजय चोपड़ा ने आर्थिक सहयोग दिया है और कॉलेज की परिकल्पना को साकार करने में हिमोत्कर्ष के प्रांतीय अध्यक्ष कंवर हरि व उनकी टीम ने कड़ी मेहनत की है जो आजतक जारी है।
वर्ष 2000 में कन्या महाविद्यालय जमा एक और दो ऑटर्स संकाय तथा बीए कोर्स के साथ शुरू हुआ था। सफलता हासिल करते हुए आज इस कॉलेज में लड़कियों के लिए जमा एक व दो की छात्राओं के लिए आर्टस कॉमर्स के साथ मैडिकल संकाय, बीए कोर्स, फैशन डिजाइनिंग और आईटी का कोर्स भी उपलब्ध है। इतना ही नहीं छात्राओं के लिए रहने के लिए होस्टल सहित सभी व्यवस्थाएं भी बेहतरीन तरीके से उपलब्ध करवाई गई हैं, ताकि छात्राओं को किसी प्रकार की दिक्कत का सामना न करना पड़े। महाविद्यालय में दूर-दूर से छात्राएं शिक्षा ग्रहण करने आती हैं। कॉलेज से शिक्षा ग्रहण करके गई कई छात्राओं ने कई जगहों पर सफलता के झंडे गाडे हैं।
कॉलेज में करीब 300 से ऊपर छात्राएं शिक्षा ग्रहण करती है। जो छात्राएं हॉस्टल में रहने के लिए इच्छुक है उनके लिए बेहतरीन इंतजाम किए जाते हैं। इसके अलावा कॉलेज में छात्राओं के बीच विभिन्न प्रकार की गतिविधयां भी करवाई जाती हैं। ताकि छात्राओं का आत्मबल बढ़ सके और मानसिक व शारीरिक रुप से विकास हो सके। मौजूदा समय में हिमोत्कर्ष कन्या महाविद्यालय में बीए कोर्स के साथ फैशन डिजाइनिंग और आईटी का कोर्स करवाया जा रहा है। इसके अलावा कॉलेज में जमा एक व दो के सारे विषय छात्राओं के लिए उपलब्ध है। वहीं बीसीए कोर्स के लिए अप्लाई किया गया है। आशा है कि अगले सत्र से बीसीए की कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। कॉलेज में कुल 28 अध्यापकों का स्टाफ है जिनमें सिर्फ एक शारीरिक शिक्षक का पद खाली चल रहा है। वो भी शीघ्र अतिशीघ्र भर दिया जाएगा।

गरीब व मेधावी कन्याओं के लिए निशुल्क पढ़ाई

हिमोत्कर्ष कन्या महाविद्यालय में गरीब व मेधावी छात्राओं को निशुल्क शिक्षा दी जाती है। इसके अलावा हॉस्टल व्यवस्था का इंतजाम भी फ्री किया जाता है। इतना ही नहीं यदि कोई बच्ची गरीब है और पढऩे के इच्छुक है उसके लिए कॉलेज में पढ़ाई के लिए विशेष छूट दी जाती है, ताकि बच्चियों को पढऩे और आगे बढऩे का मौका मिले और लड़कियां पढ़ाई के क्षेत्र में पीछे न रहें।

क्या कहते हैं कॉलेज प्राचार्य

हिमोत्कर्ष कन्या कॉलेज के प्रचार्या डॉ. एसके चावला का कहना है कि हमारा मकसद सभी बेटियों को अपने पैरों पर खड़ा करना है। इसके लिए कॉलेज प्रशासन हर कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि कॉलेज में बीसीए की कक्षाएं शुरू हो, इसके लिए अप्लाई कर दिया गया है। फारमेल्टी पूर्ण कर ली गई है। आशा है नए सत्र से बीसीए की कक्षाएं शुरू को सके।
–पूजा मनकोटिया, ऊना।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams