नम्होल और घ्याल के ग्रामीणें ने दी 51 -51 सौ इंटे

हिमाचल दस्तक: नम्होल : एक ईंट शहीद के नाम अभियान के माध्यम से जहां शहीदों व उनके परिवारों के लिए आम जनमानस को जहां कुछ करने का मौका मिलेगा। वहीं नई पीढी को राष्ट्र भक्ति और उनके पद चिन्हों पर चलने की प्रेरणा भी मिलेगी।

यह बात एडीएम विनय कुमार ने नम्होल में आयोजित एक ईंट शहीद के नाम अभियान के तहत आयोजित समारोह की अध्यक्षता करते हुए प्रकट किए। ग्राम पंचायत नम्होल और घ्याल के लोगों ने 51 -51 सौ ईंटें एक ईंट शहीद के नाम अभियान में भेंट की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि एक ईंट शहीद के नाम शहीदों को सच्ची श्रद्धाजंलि देने का एक छोटा सा प्रयास है जिसके माध्यम से शहीदों की स्मृतियों सहेजने व उनकी शौर्य गाथाओं से भावी पीढिय़ों को अवगत करवाकर शहीदों व उनके परिवारों को सम्मान जनक ढंग से कुछ लौटानें का एक सशक्त माध्यम है। जिसके लिए हम सबको सामुहिक रूप से यह भागिता निभानी है।
उन्होंने कहा कि शहीदों की शहादत मा़त्र इतिहास के पन्नों तक ही सिमित न रह जाए इसके लिए विशाल स्मारक का निर्माण किया जा रहा है। जो न केवल वीर शहीदों की स्मृतियों आमजन के मानस पटल पर जीवंत ही रखेगा । अपितु जिला का एक अत्यंत दर्शनीय व मनोरम पर्यटक स्थल बनकर भी आगन्तुकों को भी यहां आने के लिए मौन निमत्रंण देगा।

इस अवसर पर अभियान के संयोजक संजीव राणा ने कहा कि देश की आजादी और सुरक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुतियां देनें वाले वीर स्पुतों की बलिदान गाथाओं की स्मृतियां धुमिल न हों। इसके लिए वीरभूमि के नाम से विख्यात जिला बिलासपुर में शहीदों को सम्मान देने के लिए श्एक ईन्ट शहीद के नाम अभियान चलाकर एक अतुलनीय प्रयास को अमलीजामा पहनाया जा रहा है।

इस अवसर पर सूबेदार मेजर प्रेम सिंह, वेद संत राम, मास्टर गीता राम, स्ट्राईकर हांडा, जीत राम कौंडल, नानक चंद, जगदीश कुमार, प्रधान नंद लाल, नम्होल प्रधान रंजीत सिंह, पूर्व प्रधान बाबू राम,जगत राम, कैप्टन बालू राम, शंकर सिंह, संत राम, जगदीश चंद,कृष्ण चंद, घ्याल प्रधान पदम देव,पूर्व
बीडीसी सदस्य कृष्ण सिंह, लेख राम,बलदेव सिंह,श्रवण कुमार,शमिता गौतम, बंता राम, शेर सिंह, राम लोक,बिमला देवी उपस्थित रही।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams