Illegal occupation

पुलिस छावनी में तबदील हुई मैहता कॉलोनी, भारी पुलिस बल के समक्ष किसी ने नहीं जताया विरोध

हिमाचल दस्तक। नालागढ़ : न्यायालय के आदेशों के बाद नालागढ़ प्रशासन ने नालागढ़ रोपड़ रोड़ पर मैहता कॉलानी से अवैध कब्जे हटाए। भारी पुलिस बल की मौजूदी में नगर परिषद, स्थानीय प्रशासन व नगर परिषद ने दर्जनों दुकानों के आगे से अवैध निर्माण तोड़ा और अतिक्रमण को हटाया। इस कार्यवाही से दुकानदारों में हडकंप मच गया।

पुलिस के पुख्ता प्रबन्धों के बीच बाद दोपहर परिषद की कार्यवाही चली। नगर परिषद नालागढ़ द्वारा रोपड़ मार्ग पर मैहता कालोनी में अस्थायी निर्माण करने पर 28 लोगों को थमाए थे, नोटिस की समयावधि खत्म होने पर नगरपालिका अधिनियम की धारा-239 के तहत अतिक्रमण हटाने के लिये कार्यवाही शुरु की।

नायब तहसीलदार की अगुवाई वाली टीम शुक्रवार को शाम करीब चार बजे इस अस्थाई निर्माण को तोडऩे पहुंची थी। नोटिस के बावजूद भी दुकानदारों ने अस्थाई निर्माण और अवैध कब्जों को नहीं हटाया। जिसके चलते शुक्रवार को नायब तहसीलदार व परिषद की टीम ने अवैध निर्माण व अतिक्रमण को हटा दिया।
जानकारी के अनुसार माननीय उच्च न्यायालयों के आदेशों के बाद मैहता कॉलोनी में दुकानों के आगे हुए अस्थाई निर्माण को तुड़वाने के उपमंडल प्रशासन के आदेशों पर नगर परिषद द्वारा पहले 24 घंटे व बाद में 6 घंटे के नोटिस थमाए गए। कुछ दुकानदारों ने स्वयं ही अवैध कब्जे हटा लिए थे लेकिन कुछ बेलगाम दुकानदारों पर नोटिस और चेतावनी का कोई असर नहीं हुआ। प्रशासन ने दुकानों के आगे रखे गए सामान व किए गए अस्थाई निर्माण को हटाने के लिए प्रशासन की टीम चार बजे पहुंच गई थी जिसने आते ही कार्यवाही शुरु कर दी।

बताते चलें कि माननीय उच्च न्यायालय में जनहित याचिका पर लिए गए कड़े संज्ञान के बाद उपमंडल प्रशासन ने माननीय अदालत के आदेशों के तहत जहां नाप नपाई का कार्य शुरू करवाकर ऐसे अस्थायी तौर पर निर्माण करने वाले चिहिन्त करके इन्हें नोटिस थमाते हुए अस्थाई निर्माण करने वाले दुकानदारों को हिदायत दी थी, कि वह अपनी दुकानों के बाहर इस अस्थाई निर्माण को तोड़ दे, वहीं सामान को भी हटा दे।
उधर लोगों ने आरोप लगाते हुये कहा कि माननीय उच्च न्यायलय के आदेशों की अनुपालना सही तरीके से नहीं हो रही है जिस एसआईटी रिपोर्ट में जिस अवैध निर्माण को अनुचित ठहराया उस पर कोई उचित कार्यवाही नहीं की जा रही। शुक्रवार को प्रशासन, नगर परिषद व पुलिस की संयुक्त कार्यवाही के तहत कई दुकानों के आगे बनाये रैंप तोड़े गये, अस्थाई सिढियां हटाई गई और दीवारें गिराई गई।

इस मौके पर नायब तहसीलदार हेमचंद कशयप, कानूनगो बलवीर सिंह, पटवारी प्रेम चंद शर्मा , संगत सिंह, नगर परिषद से बलजीत सिंह, अमृतपाल व एसएचओ नालागढ़ राज कुमार के अलावा दर्जनो पुलिस कर्मचारी टीम में शामिल रहे।

” एसडीएम नालागढ़ प्रशांत देष्टा ने कहा कि माननीय हाईकोर्ट के आदेशों की अनुपालना के तहत प्रशासनिक कार्रवाई की जा रही है। नगर परिषद ने भी नगरपालिका अधिनियम की धारा-239 के तहत अबैध कब्जे हटाने शुरु कर दिये हैं ।”

 

……….. ओम शर्मा ………….

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams