News Flash
JohnV Nobel to Goodinf, Stanley Wittingham and Akira Yoshino

स्टॉकहोम। रसायन के क्षेत्र में 2019 का नोबेल पुरस्कार अमेरिका के जॉन वी. गुडइनफ, ब्रिटेन के स्टैनली विटिंघम और जापान के अकीरा योशिनो को दिया जाएगा। तीनों वैज्ञानिकों को लीथियम आयन बैटरी के विकास में अहम भूमिका के लिए चुना गया है। इनके प्रयास से लीथियम आयन बैटरी की क्षमता दोगुनी हुई। अधिक उपयोगी होने से आज यह बैटरी मोबाइल फोन, लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक वाहनों में इस्तेमाल हो रही है।

97 साल के गुडइनफ यह पुरस्कार पाने वाले सबसे उम्रदराज विजेता होंगे। उनसे पहले पिछले साल 96 साल के आर्थर अश्किन को नोबेल मिला था। पुरस्कार की घोषणा करने वाली जूरी ने कहा जॉन बी. गुडइनफ, एम स्टैनली विटिंगघम और अकीरा योशिनो को इस साल के लिए रसायन का नोबेल पुरस्कार दिए जाने से काफी उत्साहित हूं।

लीथियम आयन बैटरी ने पोर्टेबल डिवाइस के इतिहास में क्रांतिकारी बदलाव लाया है। यह अगली पीढ़ी के इलेक्ट्रॉनिक वाहनों के विकास में अहम भूमिका निभाएगा। रसायन के लिए यह पुरस्कार लंबे समय से दिया जा रहा है और इस क्षेत्र को अधिक पहचान मिलने से खुशी होती है।

गुडइनफ बने सबसे उम्रदराज विजेता

रसायन के लिए सबसे युवा पुरस्कार विजेता फ्रेडरिक जोलियट (35) थे, उन्होंने 1935 में अपनी पत्नी इरीन जोलियट क्यूरी के साथ यह पुरस्कार जीता था। रसायन के लिए सबसे उम्रदराज पुरस्कार विजेता जॉन वी. गुडइनफ(९७) बने, इन्हें 2019 के लिए नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]