News Flash

कांग्रेस अध्यक्ष पर आरोप तय, कोर्ट में दोष कबूलने से इनकार

एजेंसी। ठाणे :  एक स्थानीय मजिस्ट्रेट अदालत ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता की ओर से दायर मानहानि मामले में आरोप तय कर दिए। कांग्रेस अध्यक्ष को अब मानहानि के मुकदमे का सामना करना पड़ेगा।

अदालत में कार्यवाही के दौरान राहुल गांधी ने इस मामले में इकबाल-ए-जुर्म नहीं किया है। गांधी सुबह 11 बजकर पांच मिनट पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच भिवंडी में मजिस्ट्रेट की अदालत पहुंचे जहां लोगों ने उनके समर्थन में नारे लगाए। राहुल गांधी दीवानी न्यायाधीश एआई शेख के समक्ष पेश हुए। इसके बाद न्यायाधीश ने उन पर लगाए गए आरोपों और शिकायतकर्ता राजेश कुंते के बयान को पढ़ कर सुनाया।

न्यायाधीश ने आरोप पढ़ा, आरोप के अनुसार आपने (गांधी) छह मार्च 2014 को भिवंडी में चुनाव के लिए आयोजित एक रैली में उस संगठन की छवि खराब की जिससे शिकायतकर्ता जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि आपका भाषण, जो चैनलों में टेलीकास्ट हुआ और समाचारपत्रों में प्रकाशित हुआ, उसने याचिकाकर्ता और उसके संगठन की छवि को खराब किया है और इस तरह आपने भारतीय दंड संहिता की धारा 499 और 500 के तहत अपराध किया है। इसके बाद न्यायाधीश ने उनसे पूछा , क्या आप आरोप स्वीकार शेष ञ्च पेज १3

भाजपा-आरएसएस को मुकदमे की चुनौती

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने युवकों और किसानों के रोजगार पर कोई चर्चा नहीं करने को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर तीखा हमला किया और कहा कि मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ उनका संघर्ष जारी रहेगा। गांधी ने भाजपा और आरएसएस को चुनौती दी कि वे जितना चाहें उनके खिलाफ मुकदमे दायर करें। कांग्रेस अध्यक्ष ने भिवंडी अदालत से बाहर पत्रकारों से कहा कि हमारी जंग प्रधानमंत्री की नीतियों के खिलाफ है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams