News Flash
Today and tomorrow storm-storm and hail warning

प्रदेश में 21 मई तक कड़े रहेंगे मौसम के तेवर

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला : पहाड़ी प्रदेश हिमाचल में मौसम विज्ञान विभाग ने 16 व 17 मई को आंधी-तूफान के साथ ओलावृष्टि की यलो वार्निंग जारी की है। इसके चलते इन दो दिनों में राज्य के निचले एवं मैदानी क्षेत्रों और मध्यम पर्वतीय इलाकों में अंधड़ के साथ ओले गिर सकते हैं।

इस दौरान कहीं-कहीं धूल भरी आंधी भी चल सकती है, जिस दौरान हवा की गति 40-50 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से चलने की आशंका है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला से प्राप्त जानकारी के मुताबिक पश्चिमी हवाओं के प्रभाव से राज्य में 21 मई तक मौसम के तेवर कड़े रहेंगे। इस दौरान निचले व मैदानी इलाकों सहित मध्यम ऊंचाई वाले इलाकों में कहीं-कहीं बारिश होगी, जबकि उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश के साथ कुछ स्थानों पर बर्फ भी गिर सकती है। 21 मई को जहां निचले व मैदानी क्षेत्रों और अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में मौसम साफ रहेगा तो मध्यम पर्वतीय क्षेत्रों में कुछ जगह बारिश की संभावना है।

केलंग का पारा फिर 3 डिग्री न्यूनतम : मौसम के इस मिजाज के चलते पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी के कारण प्रदेश के जनजातीय इलाके लाहौल-स्पीति के केलंग में न्यूनतम तापमान फिर से 3 डिग्री सेल्सियस तक आ गया है, जबकि यहां अधिकतम तापमान 9 डिग्री तक है। इसी तरह कल्पा में न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री और अधिकतम तापमान 10.5 डिग्री सेल्सियस है। इसके अलावा बारिश के कारण राज्य के अन्य पहाड़ी इलाकों को न्यूनतम तापमान भी और नीचे लुढ़क गया है। इस दौरान शिमला का न्यूनतम तापमान 12.4 डिग्री, कुफरी में 9.6, मनाली में 6, भुंतर का 11, सोलन में 12.5, डलहौजी में 11.1 और चंबा में भी न्यूनतम तापमान 13.6 डिग्री सेल्सियस चल रहा है।

कई जगह हुई बारिश

इस बीच मंगलवार से लेकर प्रदेश के कई स्थानों पर अच्छी बारिश हुई है। इसमें धर्मपुर के अंदर 25 मिली मीटर, बंजार में 16, मनाली में 12, शिमला व कुफरी में 7, सेऊबाग, मशोबरा व जंजैहली में 6, सलोनी व कुमारसैन में 5, जुब्बल में 4 और कोटखाई, पच्छाद व डलहौजी में 3 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई।

आज व…

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]