News Flash
cm

बच्ची से 12 का पहाड़ा सुनकर आशीर्वाद स्वरूप दिए 500 रुपये

हिमाचल दस्तक। चंडीगढ़
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जिला भिवानी की फ्रैंडस कॉलोनी में कैप्टन घनश्याम सिंह तंवर के निधन पर शोक व्यक्त करने उपरांत वापस जाते समय कॉलोनी में बुजुर्ग महिला व बच्चों को देख अपने हंसमुख और मिलनसार स्वभाव के अनुरूप काफिला रोक दिया। मुख्यमंत्री ने काफिले को देखने के लिए खड़ी बुजुर्ग महिला कृृष्णा देवी से बातचीत कर उनका कुशलक्षेम पूछा और उनके साथ उनकी पौती चौथी कक्षा की छात्रा कर्मिष्ठा से भी बात की।

मुख्यमंत्री ने कर्मिष्ठा से उनका नाम, स्कूल और कक्षा के बारे में पूछा। कर्मिष्ठा ने बताया कि वह जी-लिट्रा वैली स्कूल में चौथी कक्षा की छात्रा है। इस पर सीएम ने मुस्कुराते हुए कर्मिष्ठा से 12 का पहाड़ा सुनाने को कहा। कर्मिष्ठा ने बड़े ही सहज भाव और बिना किसी झिझक के पूरी टेबल सुनाई। मुख्यमंत्री ने खुश होकर कर्मिष्ठा को 500 रुपये इनाम स्वरूप दिए और अपना आशीर्वाद भी दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य हैं। उनकी सरकार बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान दे रही है।

उन्होंने कहा कि अभिभावक अपने बच्चों की पढ़ाई व संस्कारों पर ध्यान दें। मौजूदा समय में बच्चों को सही दिशा मिलना जरूरी है जो स्कूल के साथ-साथ परिवार से मिलती है। कर्मिष्ठा की दादी कृष्णा देवी ने मुख्यमंत्री को अपने घर जलपान के लिए आमंत्रित किया, लेकिन मुख्यमंत्री ने समय का अभाव और व्यस्तता का हवाला दिया।

गाड़ी में मुख्यमंत्री के साथ बैठे उनके प्रधान सचिव राजेश खुल्लर भी कर्मिष्ठा द्वारा मुख्यमंत्री के साथ किए गए संवाद से प्रभावित हुए। कर्मिष्ठा गांव तालू निवासी बिजेंद्र सिंह पंघाल की बेटी है, जो फ्रैंडस कॉलोनी मेंं ही रहते हैं। वह अपने मकान के नुक्कड़ पर अपनी दादी व छोटे भाई दक्ष के साथ मुख्यमंत्री का काफिला देख रही थी।

मान और तंवर के परिजनों को दी सांत्वना

चंडीगढ़। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जिला भिवानी की बजरंग बली कॉलोनी में भाजपा के दिवंगत नेता ओमप्रकाश मान और फ्रैंडस कॉलोनी के स्व. कैप्टन घनश्याम सिंह तंवर के निधन पर शोक प्रकट किया है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को उनके निवास स्थान पर पहुंचकर शोक संतप्त परिवार के सदस्यों को सांत्वना दी और दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना की। बजरंग बली कॉलोनी में मुख्यमंत्री ने दिवंगत भाजपा नेता मान के परिजनों से हादसे की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि मान भाजपा के वरिष्ठ एवं निष्ठावान व सामाजिक कार्यकत्र्ता थे।

उनके निधन से पार्टी ने एक निष्ठावान कार्यकत्र्ता को खो दिया है। वे किसानों की आवाज उठाते रहे हैं। वे मिलनसार स्वभाव के थे। उन्होंने कहा कि मान के अचानक इस दुनिया से चले जाने से पार्टी को गहरा झटका लगा है। उनके निधन से हुए नुकसान की भरपाई नहीं हो सकती है। इस दौरान ओमप्रकाश मान के छोटे भाई ईश्वर मान व प्रो. जगबीर मान सहित परिवार के सभी सदस्य मौजूद थे। इसके अतिरिक्त, मुख्यमंत्री फ्रैंडस कॉलोनी में दिवंगत कैप्टन घनश्याम सिंह तंवर के निवास स्थान पर पहुुंचे और स्व. तंवर के निधन पर शोक व्यक्त किया।

उन्होंने तंवर के चित्र के समक्ष पुष्प अर्पित करके अपनी श्रद्धांजलि दी। उन्होंने स्व. तंवर के बेटे उप पुलिस अधीक्षक उदयराज सिंह व अन्य परिजनों से तंवर के निधन के बारे में पूछा। मुख्यमंत्री ने अपनी सांत्वना देते हुए कहा कि इंसान के चले जाने के बाद केवल उसकी यादें ही शेष रह जाती हैं। इंसान के कर्म याद किए जाते हैं। इस दौरान तंवर के परिजनों कर्नल गजराज सिंह, सूबेदार नुपूल सिंह, भूपेंद्र सिंह, अजय कुमार, शिव कुमार, अशोक, जगमाल सिंह परमार भी मौजूद रहे।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams