cm khattar

दिल्ली में पत्रकारों के साथ बातचीत में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किया खुलासा

कहा, बीट द प्लास्टिक पॉल्यूशन थीम की ओर बढ़ाए कदम

हिमाचल दस्तक। चंडीगढ़
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि गंगा बचाओ अभियान की तरह ही यमुना के पानी को बचाने का अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए केंद्र और दिल्ली सरकार से आग्रह किया गया है। मुख्यमयंत्री ने यह जानकारी दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत करते हुए दी। उन्होंने कहा कि दिल्ली का प्रदूषित पानी जो किसी भी रास्ते से यमुना में आता है, उसके लिए हमने केंद्र और दिल्ली सरकार को आग्रह किया है कि इसके लिए एक बड़ा प्रोजेक्ट बनाया जाए।

उन्होंने कहा कि वृंदावन के लोगों की भी साफ पानी की मांग आई है कि वहां साफ -सुथरा पानी पहुंचे। इसलिए जिस तरह गंगा बचाओ अभियान चल रहा है, वैसे ही यमुना के पानी को बचाने के लिए अभियान चलाया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि 5 जून को दुनियाभर में पर्यावरण दिवस मनाया जाता है और इस बार भारत देश यूएनओ में होस्ट देश है। इस पर्यावरण दिवस का थीम बीट द प्लास्टिक पॉल्यूशन है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण को देखते हुए हरियाणा सरकार ने 5 सूत्रीय कार्यक्रम लागू किया है।

प्रारंभ में 15 अगस्त तक सरकारी भवनों में इन्हें बदलने का निर्णय लिया गया है।

इसके अंतर्गत सरकारी व प्राइवेट स्कूलों के कक्षा 6 से 12वीं तक के विद्यार्थी अपने-अपने घर, बाहर या आस-पास के स्थान पर एक-एक पेड़ अपने हाथों से लगाएंगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जहां पानी खूले में बहता है। उसे रोकने के लिए प्रदेश में पर्याप्त नल उपलब्ध करवाए जाएंगे। इसके लिए जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, हरियाणा शहरी विकास प्राधिक रण विभाग और शहरी स्थानीय निकाय विभाग को निर्देश दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बीट द प्लास्टिक पॉल्यूशन थीम की ओर कदम बढ़ाते हुए हरियाणा सरकार ने प्रदेश के सभी सरकारी कार्यालयों में एकल उपयोग वाली पानी की बोतलों पर प्रतिबंध लगाया है। अब केवल बहुउपयोग में आने वाली पानी की बोतलों का ही उपयोग किया जाएगा, ताकि सिंगल यूज प्लास्टिक का प्रयोग खत्म किया जा सके।

उन्होंने कहा कि पानी के पुनर्भरण पर बल देते हुए तीन माह के भीतर 10 नगरनिगमों की प्रत्येक सरकारी इमारतों में वर्षा के पानी का संग्रहण करने और पानी के पुनर्भरण के लिए 1000 गड्ढे खोदने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हेलोजेन और सोडियम बल्बों व टयूबलाइट्स को ऊर्जा दक्ष एलईडी बल्बस और टयूबलाइट्स से बदला जाएगा। प्रारंभ में 15 अगस्त तक सरकारी भवनों में इन्हें बदलने का निर्णय लिया गया है।

हरियाणा में जल आपूर्ति में केंद्र करेगा सहयोग

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि पाकिस्तान में जा रहे पानी को रोकने के लिए बांधों के निर्माण किए जाने के संबंध में पंजाब के मुख्यमंत्री को लिखे पत्र के संदर्भ में भी केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नीतिन गडकरी को पुन: अवगत कराया गया है और केंद्र इस संदर्भ में पंजाब से बातचीत करेगा। इसके अलावा, राजस्थान द्वारा तीन बरसाती नदियों कृष्णा, दोहन व साहबी पर बांधों के निर्माण किए जाने के परिणामस्वरूप हरियाणा के दक्षिणी क्षेत्र में पानी की कमी होने की स्थिति बारे में हरियाणा ने केंद्र को अवगत कराया है तथा इस बारे में भी केंद्र सहयोग करेगा।

वहीं, हरियाणा प्रदेश के दूसरे राज्यों से संबंधित पानी के विभिन्न विषयों के बारे में केंद्र सरकार सहयोग भी करेगी। इस संबंध में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मंगलवार को नई दिल्ली में केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नीतिन गडकरी के साथ बैठक की। हरियाणा के मुख्यमंत्री ने हरियाणा प्रदेश के दूसरे राज्यों से संबंधित पानी के विभिन्न विषयों की वस्तुस्थितियों के बारे में केंद्रीय मंत्री गडकरी को अवगत कराया।

दिल्ली को उसके हिस्से से अधिक पानी

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा द्वारा दिल्ली को उसको आबंटित हिस्से से 120 क्यूसेक पानी अधिक दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा द्वारा दिल्ली को 120 क्यूसेक अधिक पानी दिया जा रहा है। हालांकि हरियाणा द्वारा दिल्ली को इतनी मात्रा में यह पानी केवल 30 जून तक ही दिया जा सकेगा। इससे आगे की स्थिति पानी की उपलब्धता पर निर्भर करेगी।

यह भी पढ़ें – एवरेस्ट मैराथन में हिमाचल की दिव्या को इंडियन कैटेगरी में मिली विजयश्री

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams