News Flash
eggs

अंडा विटामिन बी-1, बी-2, बी-5 तथा विटामिन बी-12 का उत्कृष्ट स्रोत

नियमित रूप से एक अंडा खाने से न केवल दिनभर स्फूर्तिवान रहा जा सकता है बल्कि इससे कुपोषण की समस्या का समाधान भी किया जा सकता है। एक अध्ययन से स्पष्ट हुआ है कि एक अंडे में 6.3 ग्राम प्रोटीन होती है, जो शरीर में स्फूर्ति को बनाए रखने में बहुत कारगर है…
अंडे के सफेद भाग में 3.5 ग्राम प्रोटीन होता है जबकि इसके पीले हिस्से में 2.8 ग्राम प्रोटीन होता है। इस प्रोटीन में 9 आवश्यक एमीनो एसिड होते हैं, जो शरीर में प्रोटीन निर्माण में सहायक होते हैं।

प्रोटीन मांसपेशियों को मजबूत बनाता है और उनमें होने वाले नुकसान की भरपाई भी करता है। अंडे में विटामिन और खनिज जैसे तत्व भी पाए जाते हैं और इसमें केवल 70 कैलोरी होती है। अंडे की वसा में घुलनशील विटामिन-ए, डी और ई होता है। विटामिन-ए स्वस्थ कोशिकाओं के निर्माण और त्वचा प्रतिरक्षण के लिए आवश्यक है। विटामिन-डी हड्डियों एवं दांतों के विकास के लिए तथा प्रतिरक्षण और तंत्रिका तंत्र के लिए जरूरी है। अंडे में उपलब्ध विटामिन-ई प्रजनन प्रणाली के लिए जरूरी है।

अंडा विटामिन बी-1, बी-2, बी-5 तथा विटामिन बी-12 का उत्कृष्ट स्रोत है। विटामिन बी-2 स्वस्थ त्वचा एवं आंखों के लिए आवश्यक है। विटामिन बी-12 लाल रक्त कणिकाओं के निर्माण में सहायक है। अंडे में उपलब्ध विटामिन बी-5 एमीनो अम्ल तथा फैटी एसिड के संश्लेषण में सहायक है। अंडे के सफेद भाग में क्लोरीन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, सोडियम, सल्फर और जस्ते का अंश भी पाया जाता है। अंडे के पीले भाग में फोलिक एसिड, लौह, कैल्शियम, तांबा और फॉस्फोरस का हिस्सा भी है।

यह भी पढ़ें – सेहत के लिए जरूरी है थोड़ी धूप

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams