News Flash

दिमाग को तेज़ करने के घरेलु उपाय : How to Increase Memory Power

चाहे पढ़ाई का क्षेत्र हो या जॉब का हर कोई आज के दौर में आगे निकलने के लिए तेज दिमाग चाहता है, मगर पर्यावरण और अन्य कारकों के प्रभाव के कारण हमारी स्मरण शक्ति कमज़ोर होती जाती है जिसके कारण हम बहुत सी बातों को भूलने लग पड़े है। दरअसल, हमारे शरीर का मैकनिजम मेमरी पर काम करता है। दिल हमारे शरीर को जिस तरह ब्लड की सप्लाई करता है, उसी तरह दिमाग सेल्स के साथ कम्यूनिकेट करता है। ब्रेन और सेल्स का कनेक्शन जितना हेल्दी होगा, सिग्नल उतनी ही तेजी से आएंगे और जाएंगे। उतना ही दिमाग और मेमरी भी बेहतर काम करेंगे। इसलिए मेमरी बेहतर करने के लिए हम आपको घरेलू उपाय बताने जा रहें है ।

  • इस कॉम्पटीशन भरी जिंदगी में तनाव इतना बढ़ गया है की हम छोटी- छोटी बातों को भूल जाते हैं।
  • रात को सोने से पहले कुछ बादाम पानी में डालकर भीगने के लिए रख दें।
  • हल्दी दिमाग स्वस्थ और एक्टिव रखता है।
  • रात में सोने के आधे घंटे पहले एक चुटकी दालचीनी पाउडर को शहद में मिलाकर खाएं ।
  • दिमाग को स्वस्थ्य और एक्टिव रखने के लिए रात को सोने से पहले गाय के घी की मालिश करें।

Also Read : Study करने के कुछ Attractive Tips

Memory Power : आज का दौर ऐसा दौर बन चूका है जहाँ हर कोई एक दूसरे से आगे निकलना चाहता है । इस कॉम्पटीशन भरी जिंदगी में तनाव इतना बढ़ गया है की हम छोटी- छोटी बातों को भूल जाते हैं और अगर सही समय पर वो याद न आये तो कई परेशानिया खड़ी हो सकती हैं। एक कक्षा में एक ही टीचर पढ़ाता  है। लेकिन उनमें से ही कुछ बच्चे एक्टिव होते हैं और बेहतर परिणाम लाते हैं। लेकिन आप पढ़ाई से जुड़ीं सब बातें भूल जाते है तो यह एक समस्या की बात है । आप किसी भी उम्र के क्यों न हो पर आपका दिमाग स्वस्थ होना चाहिए । अधिकांश लोग दिमाग की शक्ति बढ़ाने के लिए कई तरह की मेडिशन और मल्टीविटामिन खाते हैं लेकिन कुछ ऐसे घरेलू उपायों अपनाकर आप अपने बच्चो के दिमाग को तेज और एक्टिव बना सकते हैं।

  1. रात को सोने से पहले कुछ बादाम पानी में डालकर भीगने के लिए रख दें। फिर सूबह इसके छिलके निकालकर इसे बारीक़ पीसकर इसका पेस्ट बना लें और एक ग्लास हल्के गर्म दूध में इस पेस्ट को मिलाकर इसमें दो चम्मच शहद मिक्स करे और पी लें । इसे पीने के 2 घंटे तक कुछ न खाएं ।
  2. हल्दी दिमाग स्वस्थ और एक्टिव रखता है। हल्दी दिमाग की इनएक्टिव कोशिकाओं को एक्टिव करने में सहायक है।
  3. दालचीनी एक अच्छी आयुर्वेदिक दवाई भी है। रात में सोने के आधे घंटे पहले एक चुटकी दालचीनी पाउडर को शहद में मिलाकर खाएं । इसके प्रयोग से दिमाग तो तेज होता ही है बल्कि इससे मानसिक तनाव भी कम होता है।
  4. हमारे दिमाग को स्वस्थ और एक्टिव रखने में अखरोट बहुत ही फायदेमंद है। लगभग 20 ग्राम अखरोट और 10 ग्राम किशमिश का नियमित रूप से प्रयोग करें। अखरोट में कई ऐसे विटामिन होते है जो हमारे शरीर के लिए लाभदायक होते हैं।
  5. कम से कम 7-8 घंटे की नींद अवश्य लेनी चाहिए इससे आपके दिमाग को भी आराम मिलता है और आपके दिमाग को नई ऊर्जा भी मिलती है ।
  6. पालक में विटामिन्स, प्रोटीन, मेग्निस और केल्सियम कैल्शियम उचित मात्रा में होता है जो हमारे दिमाग को एक्टिव रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। पालक में याददास्त बढ़ाने, दिमागी विकास और एकाग्रता बढ़ाने वाले जरुरी पोषक तत्व होते हैं। इसलिए दिमागी स्वास्थ्य के लिए पालक का सेवन जरुरी है।
  7. दिमाग को स्वस्थ्य और एक्टिव रखने के लिए रात को सोने से पहले गाय के घी की मालिश करें। इससे दिन भर की थकान भी मिट जाएगी और दिमाग भी एक्टिव रहेगा। इसका प्रयोग हफ्ते में कम से कम 4 बार करें।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]