News Flash
cheese

पनीर में हाई क्वालिटी का फैट मौजूद होता है जो कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है

आमतौर पर कुछ स्पेशल बनाने के बात होती है तो मांसाहारियों के लिए नॉन वेज के कई ऑप्शंज रहते हैं, लेकिन वहीं शाकाहारियों के पास स्पेशल बनाने के लिए पनीर मात्र सहारा होता है। पनीर खाना सेहत के लिए फायदेमंद तो है, लेकिन पनीर खाना आपके लिए नुकसानदायक भी साबित हो सकता है। पनीर में हाई क्वालिटी का फैट मौजूद होता है जो कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है और यही वजह है कि कोलेस्ट्रॉल का बढऩा आपके दिल के लिए खतरा पैदा कर सकता है।

दरअसल, रिसर्चर्स ने पनीर, दूध, मक्खन, मांस और चॉकलेट पसंद करने वालों को सतर्क होने की सलाह दी है। रिसर्चर्स का कहना है कि इस तरह के पदार्थों में सैचुरेटेड फैट एसिड होता है, जिससे दिल की बीमारी होने का खतरा अधिक होता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि अगर दिल की बीमारी से बचना है तो पनीर, मक्खन, मांस जैसे पदार्थों की जगह अनाज, कार्बोहाइड्रेट या प्रोटीन जैसे पदार्थों का सेवन करना चाहिए।
एक रिसर्च के मुताबिक बैलेंस्ड डाइट की सिफारिशों में सैचुरेटेड फैट को अनसैचुरेटेड फैट या खड़े अनाज से बदले जाने की बात होनी चाहिए। इससे हार्ट-नर्व से संबंधित बीमारियों को आसानी से रोका जा सकता है। चलिए आपको बताते हैं कि सैचुरेटेड फैट और अनसैचुरेटेड फैट किसे कहते हैं।

बता दें कि कोई भी फैट, जो कमरे के तापमान पर भी जमा रहता है, वह सैचुरेटेड फैट होता है। वहीं अनसैचुरेटेड फैट कमरे के तापमान में तरल रहता है और अगर इसका इस्तेमाल संतुलित मात्रा में किया जाए, तो यह दिल के लिए अच्छा होता है। आपको यह जानना जरूरी है कि सेहतमंद रहने के लिए जितनी कैलोरी हम लेते हैं, उसका 25 से 35 फीसदी या उससे कम हिस्सा ही फैट का होना चाहिए। इसके अलावा सैचुरेटेड फैट कुल कैलोरी का 7 प्रतिशत से कम होना चाहिए।

यह भी पढ़े – मजबूत हड्डियों के लिए चाहिए कैल्शियम

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams