सब्जियां

गर्मियों में सूरज का ताप इतना तेज होता है कि वह शरीर को अंदर तक झुलसा कर रख देता है। इसलिए गर्मी को दूर करने के लिए केवल कोल्ड ड्रिंक या आइसक्रीम पर ही निर्भर न रहें। इसके लिए जरूरी है कि आप अपने आहार में ढेर सारी पानी वाली सब्जियां शामिल करें, जिससे कभी भी आपके शरीर में पानी की कमी न हो।

गर्मियों में तमाम बीमारियां शरीर को घेर लेती हैं, इसलिए ऐसी सब्जियों का सेवन कीजिए जिसमें ढेर सारा पोषण और जल हो। हम आपको कुछ ऐसी सेहतमंद सब्जियां बताएंगे, जो आपको गर्मियों के दिनों में खानी चाहिए। इन्हें खाने से आपका पेट भी ठीक रहेगा और शरीर भी हमेशा तर रहेगा। आइए जानते हैं कौन सी हैं वे हेल्दी सब्जियां…

करेला : करेला त्वचा से फोड़े, रैश, फंगल इन्फेक्शन और दाग को पैदा होने से रोकता है। इससे हाई बीपी और मधुमेह भी काबू में रहता है।

कद्दू : कद्दू गर्मियों के दिनों में खाने से पेट बिल्कुल साफ रहता है। यह पेट के कीड़ों का सफाया करता है। इसमें पोटाशियम और फाइबर काफी मात्रा में पाए जाते हैं। यह ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल करता है। यह त्वचा की कई बीमारियों को भी ठीक करता है। इसके अलावा यह ब्लड शुगर लेवल को और आंत को भी ठीक रखता है। इसलिए मधुमेह पीडि़तों को कद्दू खाने को बोला जाता है।

चवली : चवली एक साग होता है, जो कि गर्मियों के दिनों में काफी ज्यादा बिकता है। यह काफी ज्यादा पौष्टिक होता है। इसे चाइनीज स्पिनिच भी कहते हैं। इसमें ढेर सारा विटामिन ए, बी 6 और विटामिन सी होता है। इसमें गर्मी भगाने वाला तत्व होता है। साथ ही यह सांस की बीमारी को दूर करता है इसके अलावा यह मलेरिया बीमारी को भी दूर करता है, जो कि गर्मियों में एक आम बीमारी है।

लौकी : लौकी ज्यादातर लोगों को काफी पसंद है। इसमें ढेर सारा पानी होता है और यह खाने में मीठी होती है। इसे खाने से गर्मी दूर होती है और यह पेट के सभी रोग जैसे, एसिडिटी और अपच को दूर करती है। लौकी में सोडियम होता है।

तुरई : यह सब्जी खून को साफ करती है, ब्लड शुगर को नियंत्रित करती है और पेट के लिए बड़ी ही अच्छी मानी जाती है।

एश गार्ड या पेठा : यह गर्मियों में शरीर को ठंडा और स्वस्थ रखता है। इसमें 96 प्रतिशत पानी होता है जो कि हीट स्ट्रोक से बचाता है। इसमें ढेर सारा पौष्टिक तत्व होता है। साथ ही इसमें Vitamin Bv और Bx भी पाया जाता है। यह ब्लड प्रेशर को ठीक करता है। यह अस्थमा, खून से जुड़ी बीमारी और किडनी स्टोन को ठीक करता है।

खीरा : खीरे में 96 प्रतिशत तक पानी पाया जाता है, जिससे शरीर हमेशा तर रहता है और तापमान नियंत्रित रहता है। खीरे में बहुत सारा पोटाशियम, मैग्नीशियम और फाइबर पाया जाता है, जिससे ब्लड प्रेशर हमेशा नियंत्रित रहता है।

पालक : पालक में विभिन्न खनिज लवण जैसे कैल्सियम, मैग्नीशियम, लौह तथा विटामिन ए, बी, सी आदि प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसके अतिरिक्त यह रेशेयुक्त, जस्तायुक्त होता है। इन्हीं गुणों के कारण इसे जीवन रक्षक भोजन भी कहा जाता है।

शिमला मिर्च : शिमला मिर्च चाहे जिस रंग की हो, उसमें विटामिन सी, विटामिन ए और बीटा कैरोटीन भारी मात्रा में होता है। इसके अंदर बिलकुल भी कैलोरी नहीं होती, इसलिए यह खराब कोलेस्ट्रॉल को नहीं बढ़ाती। यह शरीर को हार्ट अटैक, ओस्टीपुरोसिस, अस्थमा और मोतियाबिंद से लडऩे में सहायता भी करती है।

हरी बींस : हरी बींस में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है। साथ ही इसमें ढेर सारा फाइबर होता है जो हृदय रोग होने से बचाता है।

Published by Himachal Dastak

Website Operator : Himachal Dastak Media Pvt.Ltd. Kangra By-Pass Road Kachiyari (H.P.)

Leave a comment

कृपया अपना विचार प्रकट करें