Congress leader

हिमाचल दस्तक :ललित ठाकुर: पधर : कांग्रेस पार्टी के हारे व जनता द्वारा नकारे हुए नेताओं को भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर आधारहीन टिप्पणी करने के बजाय अपने बिखर चुके कुनबे को संभालने की ओर ध्यान देना चाहिए ताकि उनके विलुप्त हो रहे वजूद को कुछ राहत मिल सके ।

यह शब्द भारतीय जनता युवा मोर्चा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य चंदन पंडित ने जानकारी देते हुए प्रेस से कही । कांग्रेस को एक सत्तालोभी पार्टी बताते हुए चंदन पंडित ने कहा कि आज कांग्रेसी नेता बिन सत्ता से बिन पानी मछली की तरह तड़फ रहे है और इसी बौखलाहट में वह अनाप-शनाप बयानबाज़ी कर अपने आप को राजनीति में जीवित रखने का प्रयास कर रहे हैं । जबकि उनकी आपसी फूट व निजी हितों की लड़ाई जगजाहिर हो चुकी है ओर पिछले दिनों मंडी में भी कांग्रेस की गुटबाजी देखने को मिली जहां एक ओर कांग्रेस अध्यक्ष के सामने ही दूसरे नेता को अध्यक्ष बनाने के नारे लगाए गए ।
जहां एक ओर पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह राहुल गांधी की नेतृत्व क्षमता पर उंगली उठा चुके हैं वहीं उनकी व प्रदेश कांग्रेस प्रमुख सुखविंदर सिंह सुक्खु की जंग किसी से छिपी नहीं है । वहीं द्रंग से पूर्व विधायक व मंत्री कौल सिंह अपने पक्ष में नारेबाजी करवा कर खुद को आगे रखने का प्रयास कर रहे हैं । वर्तमान समय में कांग्रेस किसी भी तरह से भाजपा के समक्ष खड़े तक होने की स्थिति में नहीं है । भारतीय जनता पार्टी की सरकार पहले दिन से केवल और केवल जनहित के कार्यों व योजनाओं को ज़मीनी स्तर पर लागू करने में व्यस्त है । पहले पांच महीनों के कार्यकाल में ही हिमाचल सरकार द्वारा तीस से अधिक जनहितैषी योजनाएं जनता को समर्पित कर दी गई है ।
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर केंद्र से अब तक लगभग 4500 करोड़ से अधिक की आर्थिक सहायता प्रदेश के लिए ला चुके हैं । सरकार का प्रत्येक मंत्री व विधायक पूरी ऊर्जा, निष्ठा व इमानदारी से जनता की सेवा में व्यस्त है । जनमंच जैसे कार्यक्रम के माध्यम से जनता को सीधा सरकार से जुड़ने का अवसर प्राप्त हो रहा है । परंतु कांग्रेस अपनी घटिया राजनैतिक सोच व चरित्र हनन की राजनीति से बाज़ नहीं आ रही है जो कि निंदनीय है । देश व प्रदेश की जनता पूरी तरह से भाजपा के पक्ष में है । आने वाले लोकसभा के आम चुनावों में कांग्रेस को उनके प्रत्येक प्रश्न का उत्तर मिलने वाला है जब जनता विकास के नाम पर प्रदेश के चारों सीटों पर भाजपा के सांसदों को फिर एक बार जनसेवा के लिए देश संसद में भेजेगी ।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams