News Flash
bpl

नप नगरोटा बगवां की बैठक में प्रस्ताव पास, पात्र परिवारों का होगा चयन

विधायक ने नगर परिषद को दिए थे अपात्र परिवारों को बाहर करने के आदेश

हिमाचल दस्तक। नगरोटा बगवां
नगर परिषद नगरोटा बगवां में अपात्र BPL परिवारों को बाहर निकालने की कई वर्षों से चल रही जदोजहद को लेकर कभी निजीकंपनी से सर्वे करवाए जाते रहे और कभी खुद नप के अधिकारी व कर्मचारी डोर-टू-डोर जाकर माथापच्ची करते रहे, परंतु ढाल के तीन पात वाली कहावत चिरतार्थ ही होती रही। प्रदेश सरकार द्वारा सख्त दिए गए आदेशों के तहत नप नगरोटा बगवां के अधिकारी व कर्मचारियों ने नप के सात वार्डों का बीपीएल परिवारों का सर्वे करके करीब 133 परिवारों को BPL सूची से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

हालांकि स्थानीय विधायक अरुण कुमार मैहरा ने भी नप को पात्र BPL परिवारों को BPL सुविधा उपलब्ध करवाने व अपात्र परिवारों को बाहर करने के लिए आदेश दिए थे। सोमवार को नप अध्यक्ष स्वर्णा वालिया, कार्यकारी अधिकारी चमन कपूर तथा नप के समस्त सदस्यों ने बैठक का आयोजन करके, इस मुद्दे को लेकर प्रस्ताव में डाल दिया तथा शहर के उन लोगों जो BPL परिवारों की सूची में डलने की कई वर्षों से उम्मीद जता बैठे थे, को इंसाफ मिल गया।

नए डलने वाले बीपीएल परिवारों की आर्थिकी का सही रूप से सर्वे किया जाएगा

कार्यकारी अधिकारी ने बताया कि नप के वार्ड नंबर एक में 16, दो वार्ड में से 16, तीन वार्ड में 15, चार वार्ड में 19 व पांच वार्ड में से 19, छह वार्ड में से 34 व सात वार्ड में से 14 अपात्र बीपीएल परिवारों को बाहर का रास्ता दिखाकर, नए पडऩे वाले पात्र परिवारों का रास्ता साफ कर दिया है।

नगर परिषद ने प्रस्ताव डाल कर कहा कि बीपीएल सूची में नए डलने वाले पात्र परिवारों के कईयों के प्राथना पत्र आ गए हैं तथा शहर के पात्र लोगों को हिदायत दी गई है कि वह एक हफ्ते के भीतर BPL परिवारों की सूची में डलने के लिए अपने प्राथना पत्र नगर परिषद कार्यालय में जमा करवाएं। उन्होंने बताया कि नए डलने वाले बीपीएल परिवारों की आर्थिकी का सही रूप से सर्वे किया जाएगा। इस अवसर पर परिषद की अध्यक्ष स्वर्णा वालिया, उपाध्यक्ष बलरामपुरी, पार्षद कांता मैहरा, मधु शर्मा, सपना कटोच, सुमेश कुमार व अन्य पार्षद उपस्थित रहे।

पात्र परिवारों को सूची में डालने की मुहिम शुरू

नगरोटा बगवां। नगरोटा बगवां की 44 पंचायतों में बीपीएल के अपात्र परिवारों को बाहर का रास्ता दिखाने व पात्र परिवारों को बीपीएल सूची में डालने की मुहिम शुरू की गई थी, अब उसको लेकर अंतिम रूप देने के लिए विकास खंड की सभी पंचायतों में ग्राम सभाओं की बैठकें रखने का प्रावधान शुरू कर दिया गया है। इसकी तैयारियों को लेकर विकास खंड अधिकारी डॉ. कंवर जगदीप सिंह ने विभागीय असले की ड्यूटियां लगा दीं हैं। 25 मार्च 2018 को पहले 9 पंचायतों एरला, अंबाड़ी, अमतराड़, बगगुलेहड़, बलधर, भुनेढ़, बराणा, दनोआ में ग्राम सभा का आयोजन होगा।

इसके बाद क्षेत्र की 9 पंचायतों में पहली अपै्रल को घोड़व, हटवास, जलोट, झिकली कोठी, जसौर, कबाड़ी, कंडी, कीरचंबा में ग्राम सभाओ की बैठकें रखी हैं। 8 अपै्रल को पंचायत खाबा, खर्ट खास, लाखामंडल, लिल्ली, लूहना, मलां, मस्सल, मोहाल्कड़ चाहड़ी व मूमता पंचायत में ग्राम सभा होगी। 15 अपै्रल को पंचायत मूंदला, पलाहचकलु, पटियालकड़, पठियार, रौेंखर, रमेहड़, सददू बडग्रां, सराह जंद्राह व सरूट पंचायतों में ग्राम सभाएं पात्र बीपीएल परिवारों का अनुमोदन करेंगी।

22 अपै्रल को पंचायत सरोत्री, सुन्हीं, सिहूंड, सुनेहड़, ठारू, टौरू, उस्तेहड़, ग्राम पंचायतों में बीपीएल परिवारों की सूची का अंतिम रूप दिया जाएगा। सुरक्षा की दृष्टि से नगरोटा बगवां विकास खंड की 44 पंचायतों में से 8 पंचायतों को संवेदनशील पंचायतें घोषित किया गया। जिला उपायुक्त के दिशा-निर्देशों अनुसार जिले की उन पंचायतों को संवेदनशील घोषित करने के आदेशों की अनुपालना करते हुए विकास खंड कार्यालय नगरोटा बगवां ने 44 पंचायतों में से 8 पंचायतों को संवेदनशील पंचायतें घोषित कर दिया है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams