News Flash
medicine samples fail

जनवरी से अब तक हिमाचल में बनी दवाओं के 83 सैंपल फेल

दवाओं की सूची जारी स्टॉक उठाने के निर्देश

नवीन शर्मा। सोलन
हिमाचल में 13 दवा कंपनियों के 16 सैंपल फेल हुए हैं। केंद्रीय दवा मानक एवं नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) ने अगस्त, 2018 में निर्मित दवाओं के संबंध में ड्रग अलर्ट जारी किया है। जारी रिपोर्ट के अनुसार देशभर में 34 सैंपल फेल हुए हैं। इसमें हिमाचल की 13 दवा कंपनियां शामिल हैं।

इन दवाओं की सूची जारी कर दी गई और बाजार से इन दवाओं का स्टॉक वापस उठाने के निर्देश दिए गए हैं। इस पूर्व जुलाई माह में प्रदेश की पांच कंपनियों के 7 सैंपल फेल हुए थे, जबकि बीते जनवरी से हिमाचल में बनी दवाओं के 83 सैंपल फेल हुए हैं। वहीं, देशभर में कुल 272 दवाओं के सैंपल फेल हुए हैं।

इन दवाओं के सैंपल फेल

वीआईपी फार्मास्युटिकल्स की ओर से निर्मित टेल्कॉनोल-20 टेबलेट व मकोल प्लस कैप्सूल्स, सिफ्टरीसॉन इंजेक्शन, सैन मेडिकामेंटस द्वारा निर्मित पीबी लक कैप्सूल, थेओन फार्मा की ओर से निर्मित थेओमवे-4 टेबलेट्स, सिवरोन फार्मास्युटिकल्स की ऑर्थो सोल टेबलेट, एसजीएस फार्मास्युटिकल्स का अमिजेक्ट 500 इंजेक्शन व कॉनस्कार्फ इंडिया की फेरिस्को-एक्सटी टेबलेट्स मानकों पर खरे नहीं उतरे।

इसके अलावा सनवेट हेल्थकेयर के ओमेंटम-डीएसआर कैप्सूल्स, यूनिटेल फॉर्मूलेशन्स का बीओझोले-20 इंजेक्शन, तरगें फॉर्मूलेशन्स का अललर-एक्स टेबलेट्स, कॉसमॉस रिसर्च का हजिकलाव ड्राई सिरप, सीएमजी बायोटेक का नेफग्राफ 0.5 कैप्सूल्स, मरकरी लेबोट्ररी का जेंटामीसिन इंजेक्शन, स्टैनफोर्ड लैब के फे-फोर्टे कैप्सूल्स, सीनकॉम हेल्थकेयर की डोमपेरिडोने टेबलेट्स, सिग्नेचर इंडस्ट्रीज की इस्मेप्राजोले मैग्नीशियम टेबलेट्स, संक्टस ड्रग्स व पंचिम बागा फार्मा का कंपाउंड सोडियम इंजेक्शन, बायो जेनेटिक ड्रग्स की ओर से निर्मित टेर्बतलाइन सल्फेट सिरप, हेल्वूड लैबोरेट्रीज व नेउटेक हेल्थकेयर की आइबूप्रोफेन टेबलेट्स, रौनक लाइफकेयर की जोलिड-500 दवा, विलक्योर रेमिडीज की स्फोइल ड्राई सिरप, थेओन फार्मास्युटिकल्स की एटोरवास्टेटिन टेबलेट्स, जी लैबोरेट्रीज की क्लोरहेक्सिडिने क्रीम और आयरन सुक्रोस इंजेक्शन, कान्हा बॉयोजेनेटिक की एजिसार्टन 80 टेबलेट, अथेंस लाइफ साइंसेज की एजिसार्टन-40 टेबलेट्स, दरख्त फार्मास्युटिकल्स की पांडा टेबलेट्स, एंग्लो-फ्रेंच ड्रग्स व हर्ब एज हेल्थकेयर की पैरासिटामोल के सैंपल फेल हुए हैं।

2018 फेल सैंपल       प्रदेश में बनी दवाएं

जनवरी     31                          8
फरवरी      39                         14
मार्च          42                         15
अप्रैल        34                         07
मई            43                        13
जून           26                         04
जुलाई        23                         07
अगस्त      34                         16

प्रदेश की 13 दवा कंपनियों के सैंपल फेल हुए हैं। जिन दवाओं के सैंपल फेल हुए है, उनका स्टाक बाजार से उठाने के निर्देश जारी किए गए हैं।
-नवनीत मरवाहा, स्टेट ड्रग कंट्रोलर, हिमाचल प्रदेश

यह भी पढ़ें – किंगफिशर एयरलाइंस का मालिक था गांधी परिवार

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams