News Flash
post health department

समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य मंत्री ने खाली पदों को जल्द भरने के दिए निर्देश

मंत्री ने लटके कार्यों पर किया जवाब तलब

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
प्रदेश स्वास्थ्य विभाग में जल्द ही 2200 पदों को भरा जाएगा। स्वास्थ्य विभाग में आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने खाली पदों को जल्द भरने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विभाग में लोक सेवा आयोग के माध्यम से 200 चिकित्सकों तथा कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर से पैरा मैडिक्स के 2000 पदों को भरने की प्रक्रिया को शीघ्र पूरा की जाएगी। वहीं स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने राज्य के विभिन्न भागों में निर्माणाधीन स्वास्थ्य संस्थानों के कार्य में तेजी लाने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि धनराशि उपलब्ध होने के बावजूद निर्माण कार्य में देरी न्यायसंगत नहीं है और इससे आम जनमानस को समयबद्ध लाभ सुनिश्चित नहीं हो पाता और अनावश्यक लागत भी बढ़ती है। उन्होंने कहा कि विभिन्न जिलों में 10 नागरिक अस्पतालों के निर्माण के लिए राज्य सरकार ने पर्याप्त धनराशि उपलब्ध करवाई है और अधिकांश का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। उन्होंने कमला नेहरू अस्पताल शिमला के नव निर्मित भवन को शीघ्र लोकार्पित करवाने को कहा।

अस्पतालों के कार्य में प्रगति न होने पर स्वास्थ्य मंत्री ने नाराजगी जाहिर की

इस अस्पताल में बिजली के ट्रांसफार्मर पर 2.60 करोड़ रुपये की राशि का अनुमान प्राप्त हुआ है और विद्युत विभाग को इसे शीघ्र स्थापित करने को कहा गया है। बैठक में अवगत करवाया गया कि मंडी अस्पताल का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो चुका है और इसके लिए आवश्यक उपकरणों की खरीद की जा रही है। कुल्लू अस्पताल के निर्माण की निविदाएं आमंत्रित कर दी गई हैं और शीघ्र ही इसका कार्य आरंभ किया जाएगा। नूरपुर अस्पताल के लिए 10 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई और एक करोड़ की अतिरिक्त राशि की आवश्यकता है।

बिलासपुर तथा ऊना अस्पतालों के कार्य में प्रगति न होने पर स्वास्थ्य मंत्री ने नाराजगी जाहिर की। इसी प्रकार सुंदरनगर अस्पताल का नक्शा बनाने में देरी को लेकर भी मंत्री नाराज दिखे। विपिन परमार ने कहा कि सोलन जिला अस्पताल को बाइपास के समीप स्थानांतरित करने को लेकर लोगों की लंबे समय से मांग है, क्योंकि शहर के अंदर अस्पताल होने से वहां मरीजों को पहुंचाने में काफी कठिनाई आती है और अस्पताल के विस्तार के लिए भी उपयुक्त जगह नहीं है।

पूछा, ऑपरेशन थियेटर में पानी क्यूं

स्वास्थ्य मंत्री सुपर स्पैशियलिटी खंड टांडा के ऑपरेशन थियेटर के निर्माण कार्य पर असंतुष्ट दिखें। उन्होंने कहा कि पर्याप्त धनराशि उपलब्ध करवाने के बावजूद इसमें पानी की निकासी जैसी अनेक खामियां हैं जिससे मरीजों को दिक्कतें आ रही हैं। उन्होंने कहा कि टांडा में पीजी हॉस्टल का निर्माण किया जाना है और इसके लिए 8.50 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई है। उन्होंने इसकी प्रक्रिया शीघ्र पूरी करने को कहा।

खोले जाएंगे वेलनेस केंद्र

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य के विभिन्न अस्पतालों में 130 वेलनेस केंद्रों की स्थापना शीघ्र करने को कहा, ताकि लोगों को सुविधा मिल सके। उन्होंने कहा कि इसके लिए दक्षिणी राज्यों की तर्ज पर अधोसंरचना को विकसित किया जाए और स्टॉफ के प्रशिक्षण की भी शीघ्र व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि वैलनेस केंद्रों के लिए 18 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी छह मेडिकल कॉलेजों में सीटी स्कैन तथा एमआरआई जैसी आधुनिक सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं और इसके लिए उन्होंने अधिकारियों को दो माह का समय निश्चित किया।

यह भी पढ़ें – छोटे कारोबारियों के कल्याण की पहले नहीं हुई चिंता – जेपी नड्डा

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams