bus

इस वर्ष पहली बार गांव को मिली बस की सुविधा

ग्रामीणों में बस सेवा को लेकर खासा उत्साह

हिमाचल दस्तक। काजा
जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति के सबसे ऊंचे व अंतिम गांव तिंदी में रविवार को HRTC की 47 सीटर बस पहुंची। इसके साथ वर्ष पहली बार गांव के लोगों को बस की सुविधा मिली है। इसके सफलतापूर्वक यहां पहुंचने से लोगों में खासा उत्साह है। इस पर तिंदी के पंचायत समिति सदस्य संजीव सूर्यवंशी ने हिमाचल पथ परिवहन निगम केलांग के क्षेत्रीय प्रबंधक मंगल चंद मनेपा की कार्यप्रणाली की सराहना की।

उन्होंने कहा कि मनेपा क्षेत्र में अधिकतर सेवाएं केलांग डिपो में ही हैं। अपने शुरुआती करियर में इसी डिपो से बतौर हेड मैकेनिक इन्होंने इस डिपो और खासकर लाहुल-स्पीति और पांगीवासियों की सेवा में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। उन्होंने कहा कि यह मार्ग बिल्कुल तंग व पहाडिय़ों को काटकर बनाया गया है।

उन्होंने कहा कि सीमा सड़क संगठन के प्रयास भी सराहनीय हैं। वह भी इन पहाड़ों में रात-दिन पसीना बहा रहे हैं। केलांग डिपो के क्षेत्रीय प्रबंधक मंगल चंद मनेपा का कहना है कि लाहुल तथा पांगी के लोगों को महज 6 से 7 महीने बस सेवा मिलती है। हमारा प्रयास यहां के लोगों के लिए बेहतर से बेहतर करना है, क्योंकि सर्दियों में यह इलाका भारी बर्फ की कैद में रहता है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams