5055 License Suspended on Rash Driving
  • प्रदेश से बाहर  के 2170 लाइसेंस पर कार्रवाई की सिफारिश
  • ऑटोमेटिक होगा ड्राइविंग टेस्ट, हर जिले में बनेगा एक ट्रैक
  • ट्रांसपोर्ट व्हीकल ड्राइवर की थर्ड पार्टी चेकिंग भी शुरू होगी

राजेश मंढोत्रा। शिमला : हिमाचल में खराब ड्राइविंग पर अब तक 5055 लाइसेंस सस्पेंड किए गए हैं। हादसों के रिकॉर्ड के आधार पर पुलिस ने परिवहन विभाग को कुल 7519 मामलों में लाइसेंस सस्पेंड करने की सिफारिश की थी। इनमें से 5055 सस्पेंड हो चुके हैं, जबकि प्रदेश से बाहर के 2170 लाइसेंस पर कार्रवाई की सिफारिश संबंधित आरएलए को भेजी गई है। शेष करीब 250 लाइसेंस पर फैसला लेने की प्रक्रिया जारी है।

सुप्रीमकोर्ट के आदेशों के आधार पर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में बनी रोड सेफ्टी कमेटी की बैठक में यह आंकड़े रखे गए हैं। चिंता की बात यह है कि हिमाचल जैसे छोटे से प्रदेश में हर साल 3000 से ज्यादा सड़क हादसे हो रहे हैं और औसतन 1200 लोग हर साल इन हादसों का शिकार हो रहे हैं। इन दुर्घटनाओं में 90 फीसदी मानवीय चूक के कारण हैं। इन हादसों को कम करने के लिए रोड सेफ्टी कमेटी ने कई नए कदम उठाए हैं।

अब प्रदेश में ड्राइविंग टेस्ट को ऑटोमेटिक किया जा रहा है। इसके लिए हर जिले में एक आटोमेटिक ट्रैक बनाया जाएगा। कुल्लू, जसूर और बद्दी में ट्रैक पहले चरण में बनाने के लिए टेंडर पर काम शुरू हो गया है। एक और नया फैसला यह लिया गया है कि अब ट्रांसपोर्ट व्हीकल के ड्राइवर की थर्ड पार्टी चेकिंग होगी। इस चेकिंग में सही पाए जाने के बाद ही उसे कोर्स पूरा करने का सर्टिफिकेट मिलेगा। हालांकि इस प्रावधान को मोटर व्हीकल एक्ट के अनुसार लीगली वेरिफाई करने को भी कहा है।

खराब स्पॉट्स मिलकर देखेंगे पीडब्ल्यूडी और पुलिस

राज्य की सर्पीली सड़कों पर मौजूद खराब स्पॉट को अब पीडब्ल्यूडी और पुलिस विभाग मिलकर चेक करेंगे। रोड सेफ्टी कमेटी को हाल ही में पुलिस ने 195 और एचआरटीसी ने 176 खराब स्थानों की सूची दी है, जो हादसों के लिए संवेदनशील हैं। इनके संयुक्त निरीक्षण के बाद ही इनमें सुधार के लिए पीडब्ल्यूडी डीपीआर बनाएगा।

रोड सेफ्टी के लिए बनाई उच्च स्तरीय कमेटी ने सड़क हादसे रोकने के लिए कई अहम फैसले लिए हैं। इस दिशा में प्रदेश में एक व्यापक अभियान छेड़ा जा रहा है।
-कैप्टन जेएम पठानिया, सदस्य सचिव, रोड सेफ्टी कमेटी

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams