shanta kumar

कहा कि प्रदेश और देश की सेवा करने का इतने लंबे समय तक इन्हें यह सौभाग्य पार्टी के कारण ही प्राप्त हुआ

हिमाचल दस्तक। पालमपुर
हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांगड़ा क्षेत्र से पूर्व लोकसभा सदस्य शांता कुमार ने समाचार पत्रों के नाम एक वक्तव्य में कहा कि वह लोकसभा व राज्य सभा में 18 वर्र्ष काम करने के बाद अब दिल्ली से विदा ले रहे हैं। उन्हें यह सम्मान दिलाने के लिए पार्टी के सभी नेताओं के वे अभारी हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश विधानसभा में भी उन्हें 15 वर्र्ष काम करने का मौका मिला। जीवन के 33 वर्ष वह विधायक या सांसद रहे, जब वह मुख्यमंत्री थे, तो गरीबों के लिए एक महत्वपूर्ण योजना अंत्योदय शुरू की। केंद्र में खाद्य मंत्री थे, तो गरीबों के लिए विश्व की सबसे बड़ी योजना अंत्योदय अन्न योजना शुरू की, जिससे आज भी करोड़ों गरीबों को सस्ता अनाज मिल रहा है। इतना ही नहीं जब एक शिष्टमंडल में विश्व की सबसे बड़ी संसद को राष्ट्रसंघ न्यूयार्क में उन्हें भाषण करने का मौका मिला, तो वहां भी उन्होंने विश्व के गरीबों के लिए अंत्योदय योजना शुरू करने की बात की। शांता कुमार ने कहा कि प्रभु कृपा से वे गांव की पंचायत से संसद और फिर राष्ट्रसंघ तक भी पहुंचे।

इतना लंबे समय उन्होंने सेवा का मौका मिला इसके लिए वे हिमाचल की जनता का भी धन्यवाद करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश और देश की सेवा करने का इतने लंबे समय तक इन्हें यह सौभाग्य पार्टी के कारण ही प्राप्त हुआ हैं। वह इसके लिए सभी मित्रों और पार्टी के सभी नेताओं का धन्यवाद करने के बाद ही दिल्ली से पालमपुर आएंगे।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams