हिमाचल दस्तक। धर्मशाला

PM Narender Modi की चुनावी रैलियों ने चुनाव का माहौल काफी गरमा दिया है। मोदी की रैलियों में उमड़ी भीड़ से भाजपाई गदगद नजर आ रहे हैं। धूमल को CM प्रत्याशी घोषित करने से भाजपा में एकदम से कुछ फुर्ती दिखी और रही-सही कसर मोदी की सात जनसभाओं ने पूरी कर दी। भाजपा जिस मिशन को लेकर चली थी, कुछ दिन पहले वह बेचर्चा सा हो चला था लेकिन अब यकायक ही उसे जैसे संजीवनी मिली हो।

एक जमाने में हिमाचल प्रदेश में भाजपा के प्रभारी रहे नरेंद्र मोदी इस राज्य की अधिकतर विधानसभा सीटों के राजनीतिक भूगोल से भली-भांति वाकिफ हैं और वह प्रदेश के मतदाताओं का मिजाज भी अच्छे से जानते हैं। यही वजह है कि प्रधानमंत्री मोदी सीधे जनता की नब्ज पर हाथ रखकर उनके दिलों को छूने वाली बात कहते हैं। दूसरी ओर धूमल को लेकर लंबे समय से सुगबुगाहट थी लेकिन लीडरशिप को लेकर कोई घोषणा न होने के कारण अलग ही तरह की चर्चाएं चल निकली थीं।

बाद में धूमल के हाथों कमान सौंपी गई और कमान मिलते ही अब प्रदेश में भाजपा का चुनावी इंजन यहां की पहाडिय़ों पर सरपट दौडऩे लगा है। पिछले 5 सालों में धूमल ही प्रदेश सरकार के खिलाफ डटे हुए थे। इस समय धूमल प्रदेश भर में ताबड़तोड़ जनसभाएं कर रहे हैं। अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सफल रैलियों के बाद भाजपा चुनाव प्रचार में फ्रंट फुट पर आ चुकी है। भाजपा के तमाम आला नेता भी जुटे हुए हैं।
प्रचार के मामले में तो स्पष्ट दिख रहा है कि बीजेपी आगे है। कांग्रेस ऐसा कुछ नहीं कर पाई।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams