News Flash
anganwadi workers

आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों को दी जा रहीं सुविधाओं का होगा ऑनलाइन आकलन

प्रथम चरण में बाल विकास परियोजना के अधिकारी और पर्यवेक्षकों को किया जाएगा प्रशिक्षित

हिमाचल दस्तक। नाहन
सिरमौर जिला में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को शीघ्र ही स्मार्ट फोन उपलब्ध करवाए जाएंगे, ताकि जिला के सभी 1486 आंगनबाड़ी केंद्रों की गतिविधियों का ऑनलाइन आकलन किया जा सके। यह जानकारी उपायुक्त सिरमौर ललित जैन ने शुक्रवार को नाहन में पोषण अभियान के लिए गठित जिला स्तरीय अभिकरण कमेटी की अध्यक्षता करते हुए दी। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को दिए जाने वाले स्मार्ट फोन में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा तैयार की गई ऐप को डाउनलोड किया जाएगा।

इस पर सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ऑनलाइन बच्चों की हाजिरी, बच्चों को दिए जा रहे संतुलित आहार, बच्चों का वजन, ऊंचाई इत्यादि का डाटा ऑन किया जाएगा। इसका राज्य एवं जिला स्तर पर अधिकारियों द्वारा आकलन किया जाएगा। उपायुक्त ने बताया कि प्रथम चरण में जिला में कार्यरत सभी बाल विकास परियोजना अधिकारी और पर्यवेक्षकों को ऐप के इस्तेमाल बारे प्रशिक्षित किया जाएगा। तदोपंरात सीडीपीओ और पर्यवेक्षक अपने अपने विकास खंड में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देगें।

उपायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि आशावर्कर के माध्यम से 6 मास से 3 वर्ष की आयु वर्ग के बच्चों को घर पर जाकर आयरन सिरप उपलब्ध करवाया जाए। ताकि बच्चों को कुपोषण से बचाया जा सके।

उन्होंने कहा कि सिरमौर में तैयार किए जाने वाले पारंपरिक व्यंजनों बारे एक पेंफलेट तैयार किया जाए, जिसमें स्वास्थ्य विभाग की सलाह पर पारंपरिक व्यंजनों में पाए जाने वाले विटामिन का उल्लेख किया गया हो और प्रकाशित पंफलेटस को सभी स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों में उपलब्ध करवाया जाएगा।

उपायुक्त ने शिक्षा विभाग को निर्देश दिए कि स्कूलों में आयोजित की जाने वाली एसएमसी की बैठकों में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ बारे व्यापक किया जाए। वर्तमान में सिरमौर जिला में कन्या जन्म दर एक हजार पुरूषों के मुकाबले 963 हो गई है। जिला कार्यक्रम अधिकारी आईसीडीएस मदन चौहान ने बैठक में पोषण अभियान बारे विस्तार से जानकारी दी।

बैठक में सचिव जिला विधिक साक्षरता सेवाएं बसंत वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र ठाकुर, जिप सदस्य प्रताप तोमर, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. केके पराशर के अतिरिक्त जिला में कार्यरत सभी सीडीपीओ और अन्य अधिकारियों ने भाग लिया।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams