News Flash
Avoiding the Express Highway Una-Nerchouk

उल्लंघन : कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा, मूक दर्शक बना हुआ है प्रशासन और विभाग, मार्ग के दोनों ओर वाहन खड़े करके चले जाते हैं मालिक, लगता है जाम

हिमाचल दस्तक। बड़सर : आम जनता की सहूलियत व यातायात को गति देने की दृष्टि से करोड़ों रुपये का बजट खर्च कर बनाया गया ऊना-नेरचौक एक्सप्रेस हाईवे वाहन चालकों के लिए खतरनाक साबित हो रहा है। एक्सप्रेस हाईवे पर मैहरे, बणी, सलौनी बाजार में सड़क के दोनों ओर बिना किसी रोक टोक के निजी वाहन हर वक्त खड़े रहते हैं। इसके चलते एक्सप्रेस हाईवे एक संपर्क सड़क बनकर रह गया है। बताते चलें कि उपमंडल के बणी, सलौनी, मैहरे सहित अन्य क्षेत्रों से होकर एक्सप्रेस हाईवे गुजरता है। वहां पर हर वक्त निजी वाहन सड़क के किनारे दोनों ओर खड़े रहते हैं।

स्थानीय लोगों का कहना है कि इस बारे कई बार बड़सर पुलिस के आला अधिकारियों से भी शिकायत की है परंतु पुलिस भी कभी कभार चालान करके अपने कर्तव्य से इतिश्री कर लेते हैं। इसके अलावा एक्सप्रेस हाईवे पर हर वक्त आवारा पशु भी गुजरते रहते हैं इस वजह से भी एक्सप्रेस हाई पर सड़क हादसे पेश आ रहे हैं।

स्थानीय लोगों में सुरेेंद्र कुमार, पवन कुमार, दौलत राम, प्रेम चंद, मनु कुमार, सतीश कुमार, योगराज, कमल बन्याल, मोहिंद्र सिंह, रचना देवी, कुसम कुमारी, पुष्पा देवी, राज कुमारी आदि ने बड़सर प्रशासन से ऐक्सप्रेस हाईव के दोनो ओर खड़े करने वाले वाहन चालकों को भारी जुर्माना किए जाने की मांग की है।

उधर, डीएसपी बड़सर जसवीर सिंह ने बताया कि पुलिस विभाग सड़क सुरक्षा नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों के चालान भी करवाए जाते हैं। परंतु हर वक्त पुलिस छोटे कस्बों में तैनात नहीं हो सकती है। ऐसे में आम लोगों का भी फर्ज बनता है कि वे अपने निजी वाहन सड़क के किनारे खड़ा न करें।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams