News Flash
Badr College's toilets worse condition

अव्यवस्था : सफाई-व्यवस्था जांचने को महाविद्यालय प्रशासन के पास नहीं वक्त, छात्र परेशान

सुनील शर्मा । बड़सर : डिग्री कॉलेज बड़सर में प्रधानमंत्री के स्वच्छता अभियान को ठेंगा दिखाया जा रहा है। यहां सफाई व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। डिग्री कॉलेज बड़सर में शौचालयों की बदहाल स्थिति विद्यार्थियों लिए परेशानी का सबब बनी हुई है।

लेकिन कॉलेज में शौचालयों की दशा कैसी है, इसको जांचने के लिए कॉलेज प्रशासन के पास न फुर्सत है और न ही उन्हें अपनी जिम्मेदारी को निभाने की फिक्र। आलम यह है कि कॉलेज में शौचालय की बदहाली के कारण विद्यार्थियों के लिए इनका प्रयोग करना तो दूर इनकी दुर्गंध की वजह से ऐसे हालात हैं  कि इनके पास से भी गुजरना मुहाल हो चुका है। वहीं शौचालयों में टॉयलट शीट व वॉश विशन तक टूट चुके हैं। इन बदहाल शौचालयों की साफ-सफाई और इन्हें सही अवस्था में रखने के लिए कॉलेज प्रशासन की ओर से अभी तक कोई प्रयास नहीं हो पाए हैं।

शौचालयों की बदहाल स्थिति को लेकर छात्र संगठनों ने भी कॉलेज प्रशासन के समक्ष कई बार अपनी नाराजगी जाहिर की है। यही नहीं गत वर्ष बड़सर विधायक इंद्रदत्त लखनपाल ने औचक निरीक्षण के दौरान कॉलेज के शौचालयों की बदहाल स्थिति को लेकर कॉलेज प्रशासन को खूब लताड़ लगाई थी। इसके बावजूद कॉलेज प्रशासन पर न तो इसका असर हो पाया और न ही शौचालयों की स्थिति सुधर पाई। हालांकि कॉलेज प्रशासन द्वारा विद्यार्थियोंं से बिल्डिंग फंड भी लिया जाता है, इसके बावजूद विद्यार्र्थियों को बेहतर शौचालय सुविधा नहीं मिल पा रही है।

हालत नहीं सुधरी तो एनएसयूआई करेगी आंदोलन : रूबल ठाकुर

एनएसयूआई प्रदेश महासचिव रूबल ठाकुर ने कहा कि महाविद्यालय बड़सर में शौचालयों की हालत बद से बदतर है। शौचालयों में बदबू फैल रही है। एनएसयूआई बड़सर इकाई महाविद्यालय प्रशासन को इसके बारे में कई बार अवगत करवा चुकी है। लेकिन प्रशासन कुछ करने के बजाए उल्टा छात्र छात्राओं को दोष देने में लगे रहते हैं।

हालांकि प्रशासन द्वारा हर माह छात्र छात्राओं से 60 रुपये प्रति छात्र से बिल्डिंग फंड के रूप में लिए जाते हैं। बावजूद इसके उस पैसे को छात्र-छात्राओं के लिए खर्च नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा की इस समस्या बारे कई बार प्रशासन को ज्ञापन भी सौंप चुके हैं लेकिन अब अगर प्रशासन ने एक महीने के अंदर शौचालयों की व्यवस्था को नहीं सुधारा तो कॉलेज प्रशासन के खिलाफ धरना-प्रदर्शन किया जाएगा।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams