kinaur

अब बिना Bag के School पहुंचेंगे स्कूली बच्चे

अरुण नेगी। रिकांगपिओ
जनजातीय क्षेत्र जिला किन्नौर का राजकीय केंद्र प्राथमिक पाठशाला कोठी Bagless बन गया है। शिक्षा खंड कल्पा ने शिक्षा के क्षेत्र में एक ऐतिहासिक कदम उठाया है। जिला किन्नौर में केंद्र प्राथमिक पाठशाला कोठी Bagless पाठशाला बना है। इस पाठशाला के बच्चे अब बिना स्कूल बैग के पाठशाला जाएंगे और पाठशाला परिवार ने बच्चों को अभ्यास व पाठ्य पुस्तकें स्कूल में रखने की पूर्ण व्यवस्था कर रखी है।

इस ऐतिहासिक कदम से बच्चों की पाठ्य पुस्तकों का बोझ तो कम होगा साथ ही बच्चों द्वारा गृह व कक्षा कार्य पाठशाला में करने से बच्चों पर मानसिक तनाव भी कम होगा। अभी पाठशाला ने शुरुआत में पहली व दूसरी कक्षाओं को बैगलेस किया है। पाठशाला प्रबंधन कोठी, मुख्य शिक्षिका व सभी अध्यापकों को मार्गदर्शन व प्ररेणादायक कार्य के लिए SMC जिला समन्वयक किन्नौर विमला नेगी सहित पाठशाला में शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों के परिजनों ने बधाई दी।

इस ऐतिहासिक कार्य के लिए राजकीय प्राथमिक पाठशाला खवांटा पांगी संत कुमार, बंडोल पाठशाला से सुनील धीमान व सरोज कुमारी, नगालठ सुन्दरनगर से नरेश ठाकुर व राजीव पठानिया, नुरपुर पाठशाला से बधाई दी। उन्होंने कहा कि किन्नौर जैसे दुर्गम क्षेत्र में जंहा बच्चों को यातायात की उचित सुविधा नहीं है वहां के बच्चों को अब स्कूल बैग का अतिरिक्त बोझ नहीं उठाना पड़ेगा व इस ऊर्जा को पढ़ाई के लिए लगा सकेंगे। राजकीय केंद्र प्राथमिक पाठशाला कोठी जिला किन्नौर के स्कूलों के लिए आदर्श पाठशाला बन चुका है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams