News Flash
BRICS will distribute water crisis of Rs 700 crore

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला : जयराम सरकार ब्रिक्स से आए 3330 करोड़ के प्रोजेक्ट के जरिए राज्य का पेयजल संकट दूर करेगी। इस प्रोजेक्ट का पहला चरण 700 करोड़ का है। आईपीएच विभाग ने काम को तेज करते हुए इन स्कीमों के टेंडर लगा दिए हैं।

चारों आईपीएच डिवीजनों में विभाग ने ग्लोबल टेंडर के जरिए विभिन्न परियोजनाओं को सिरे चढ़ाने के लिए निविदाएं आमंत्रित की हैं। टेंडर की प्री-बिड, टेक्नीकल और फाइनांशियल बिड खोलने के बाद नेगोसिएशन के लिए ब्रिक्स बैंक और विदेशी वित्त पोषण टीम हिमाचल आएगी। नेगोसिएशन के बाद ब्रिक्स बैंक बजट मंजूर करेगा। 3330 करोड़ की इस परियोजना को तीन चरणों में पूरा किया जाएगा।
पहले चरण में 700 करोड़, दूसरे चरण में लगभग 1800 करोड़ और तीसरे चरण में 800 करोड़ से पेयजल योजनाओं को सिरे चढ़ाया जाएगा। 69 लाख से ज्यादा आबादी वाले प्रदेश में 53,406 बस्तियां हैं।

इनमें से लगभग 20200 बस्तियों में पेयजल की व्यवस्था या तो नहीं है या फिर बहुत कम मात्रा में लोगों को पानी मिल पा रहा है। इन बस्तियों को ये परियोजना राहत देगी। आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ने बताया कि विभाग ने पहले चरण के टेंडर कर लिए हैं। औपचारिकताएं पूर्ण होने के बाद ब्रिक्स बैंक की टीम यहां आकर नेगोसिएशन करेगी। इसके साथ ही बजट जारी हो जाएगा। हमारा मकसद हर घर को 24 घंटे पानी देना है। प्रोजेक्ट में नदी-नालों और खड्डों से पानी लिफ्ट करने के अलावा ट्यूबवेल लगाकर लोगों को पानी दिया जाएगा।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams