News Flash
bus tires

सरेड़ी के पास डंगा बैठने से पेश आया हादसा, बाल-बाल बचे यात्री

हिमाचल दस्तक। गलोड़
डाडासीबा से दियोटसिद्ध रूट पर जा रही निजी बस सरेड़ी के पास डंगा बैठने से धंस गई । चालक की सूझबुझ के चलते बस डंगे से करीब छह सौ फीट नीचे नाले में गिरने से बच गई। हादसे के दौरान बस से यात्रियों की चीखो पुकार सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। हादसे के दौरान बस में करीब 40 यात्री सवार थे। हादसे के बाद सभी यात्रियों को सुरक्षित बस से बाहर निकाल लिया गया। सोमवार दोपहर बाद एक निजी बस डाडासीबा से दियोटसिद्ध रूट पर जा रही थी।

जैसे ही बस जियाना-सरेड़ी के बीच तंग सड़क से निकली तो हाल ही में लोनिवि द्वारा लगाए डंगे को भरने के लिए डाली गई मिट्टी धंस गई। इससे बस का अगला टायर मिट्टी में पूरा धंस गया। इस दौरान बस की बॉडी की जमीन से टकराने से यात्रियों को झटका लगा। इसके चलते बस में सवार यात्रियों की चीखों पुकार से आसपास के लोग सहम उठे। इस दौरान स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे। गनीमत रही कि हादसे के दौरान चालक ने बड़ी होशियारी से बस पर नियंत्रण पा लिया।

लोगों ने लोनिवि से मांग की है कि डंगे में ठीक तरह से मिट्टी का भरान किया जाए

इसके चलते बस डंगे से करीब छह सौ फीट नीचे गिरने से बाल-बाल बच गई। हादसे के बाद सभी यात्रियों को सुरक्षित बस से उतारा गया। इसके बाद चालक ने कड़ी मशक्कत के बाद बस को धंसी मिट्टी से बाहर निकाला। स्थानीय लोगों का आरोप है कि लोनिवि ने डंगे का निर्माण कर इसकी फीलिंग मिट्टी से कर दी है, लेकिन डंगे को भरने के लिए पर्याप्त मिट्टी नहीं डाली गई है। इसके चलते डंगे की मिट्टी कच्ची है।

लोगों ने लोनिवि से मांग की है कि डंगे में ठीक तरह से मिट्टी का भरान किया जाए। उधर, लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता ज्ञान चंद का कहना है कि डंगे में भरी गई मिट्टी के धंसने बारे कनिष्ठ अभियंता से जवाब तलब किया जाएगा और मामले की जांच की जाएगी। वहीं पुलिस अधीक्षक रमन कुमार का कहना है कि पुलिस के पास कोई शिकायत नहीं आई है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams