News Flash
Candidates decide

BJP पहली बैठक में क्लीयर कर चुकी है 40 सीटें

कांग्रेस में भी गतिविधियां हुई तेज पहली सूची जल्द

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
विधानसभा चुनाव के शेड्यूल का ऐलान होते ही BJP और कांग्रेस में प्रत्याशी घोषित करने का दबाव बढ़ गया है। जिस तरह से अब गतिविधियां तेज हुई हैं, 19 अक्तूबर की दिवाली से पहले दोनों दलों की पहली सूची जारी हो सकती है। इसका एक कारण और भी है कि 16 अक्तूबर से चुनावों के लिए नामांकन शुरू हो जाएंगे। भाजपा टिकट आवंटन पर चुनाव समिति की पहली बैठक दो दिन पहले नयनादेवी में कर चुकी है।

इसमें 68 विधानसभा क्षेत्रों के उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा हुई और करीब 40 सीटों पर सिंगल नाम तय हो गए थे। इसी हफ्ते अब दूसरी बैठक में शेष काम भी पूरा हो जाएगा। इसके बाद एक साथ ही सभी नामों को केंद्रीय संसदीय बोर्ड को भेजा जाएगा। जहां उम्मीदवरों के नामों पर अंतिम मुहर लगेगी। भाजपा ने सत्ता पर काबिज होने के लिए इस बार 50 प्लस का मिशन तय किया है। इसे हासिल करने के लिए भाजपा ने छह महीने पहले ही उम्मीदवारों के नामों को लेकर होमवर्क शुरू कर दिया था। दूसरी ओर प्रदेश कांग्रेस भी दिवाली से पहले सभी प्रत्याशियों की सूची जारी करेगी। हालांकि अभी तक टिकट के लिए आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

राज्य चुनाव समिति की बैठक जल्द होगी

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव एवं मुख्य प्रवक्ता नरेश चौहान ने बताया कि सभी आवेदनों की छंटनी की जाएगी। इसके लिए जल्द ही कांग्रेस राज्य चुनाव समिति की बैठक होगी।उसके बाद केंद्रीय चुनाव समिति के पास एक विधानसभा क्षेत्र से कम से कम दो और तीन आवेदकों के नाम भेजे जाएंगे। नरेश चौहान ने कहा कि कांग्रेस भाजपा से सशक्त उम्मीदवारों को मैदान में उतारेगी। राज्य चुनाव समिति की बैठक जल्द होगी। इसके बाद 68 विधानसभा क्षेत्रों के प्रत्याशियों की सूची पार्टी हाईकमान जारी करेगी। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने भी आज कहा है कि अधिकांश नाम फाइनल हो गए हैं।

वर्तमान विधानसभा में भाजपा के 28 विधायक

वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में मिशन रिपीट के नारे के साथ चुनाव मैदान में उतरी भाजपा के लिए चुनाव परिणाम उम्मीद के मुताबिक नहीं रहे थे। प्रदेश के सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों से भाजपा के कुल 27 उम्मीदवार चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचने में सफल हो पाए थे। भाजपा से नाराज होकर पूर्व सांसद महेश्वर सिंह कुल्लू से हिलोपा से चुनाव जीतकर विधायक बने थे, लेकिन पिछले साल हिलोपा का भाजपा में विलय होने से अब विधायकों की संख्या 28 हो गई है। वर्तमान विधानसभा में शाहपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की सरवीण चौधरी एक ही महिला विधायक है। वह लगातार दूसरी बार चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंची है।

 

Assembly Election- कांगड़ा नहीं दे रहा किसी को दोबारा मौका

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams