highway blocked

गैहरा के समीप फंसा ट्राला 2 करीब पांच बजे मार्ग हुआ बहाल

  • मार्ग बंद होने के चलते यात्रियों को पेश आई दिक्कतें
  • भरमौर मार्ग पर हर बार ट्राला फंसने से बंद होती है आवाजाही

हिमाचल दस्तक। भरमौर
चंबा-भरमौर राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर गैहरा के समीप एक ट्राला फंसने से वाहनों की आवाजाही ठप पड़ गई। इसके चलते यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। पूरा दिन ट्राला फंसा रहने के चलते होली व भरमौर से जिला मुख्यालय के लिए निकले लोग नहीं पहुंच पाए। बताया जा रहा है कि ट्राला बुधवार आज सुबह करीब पांच बजे फंसा था। इसके बाद वाहनों की आवाजाही ठप पड़ी हुई है।

ट्राला फंसने के चलते मार्ग के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गई। राष्ट्रीय उच्च मार्ग प्राधिकरण को जैसे ही सूचना मिली, तो मशीनरी को मौके पर भेज दिया है। शाम करीब पांच बजे मार्ग को बहाल किया गया।  गौरतलब है कि चंबा-भरमौर मार्ग पर कई मर्तबा ट्राला फंसने की वजह से वाहनों की आवाजाही थम चुकी है। बुधवार की सुबह भी कुछ ऐसा ही हुआ। एक ट्राला गैहरा के समीप फंस गया। इसके चलते वाहनों की आवाजाही पर पूरा दिन ब्रेक लगी रही।

प्रशासन से मांग की है कि इन ट्रालों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगाया जाए

ट्राला फंसने के चलते रोजमर्रा की वस्तुएं भी बुधवार को भरमौर नहीं पहुंच सकी। यात्रियों में सुरेंद्र कुमार, रेखा देवी, आरती देवी, उत्तम चंद, भारती देवी, पवन कुमार, जीवन लाल, संजीव कुमार, रमेश कुमार, ओंकार सिंह व योगराज ने बताया कि वे अपने जरूरी कार्य के लिए भरमौर से जिला मुख्यालय के लिए निकले थे, लेकिन गैहरा के समीप ट्राला फंसा होने के चलते उन्हें काफी दिक्कतें पेश आई।

मार्ग पर दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गई। यात्रियों का कहना है कि भरमौर मार्ग पहले से ही गैहरा के समीप काफी संकीर्ण है। ऐसे में यहां बड़े-बड़े ट्राले आवाजाही नहीं कर सकते। जबरदस्ती ट्राले गुजारने की कोशिश से हर बार लोगों को परेशानी होती है। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि इन ट्रालों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगाया जाए। राष्ट्रीय उच्च मार्ग प्राधिकरण चंबा के सहायक अभियंता वीर सिंह राणा ने बताया कि गैहरा के समीप ट्राला फंसा होने के चलते वाहनों की आवाजाही ठप्प रही। उन्होंने कहा कि सूचना मिलते ही मशीनरी भेज दी गई है।

12 घंटे बाद बहाल खड़ामुख होली मार्ग

होली। खड़ामुख-होली मार्ग पर करीब बुधवार को 12 घंटों बाद वाहनों की आवाजाही के लिए बहाल हुआ। इसके चलते लोगों ने राहत की सांस ली। उक्त मार्ग पर गरोला के समीप मंगलवार देर रात पहाड़ी से भारी भरकम भू-स्खलन हुआ था। इसे लोक निर्माण विभाग की मशीनरी ने बुधवार को करीब 12 बजे हटाया। इसके बाद मार्ग पर यातायात बहाल हुआ।

गौरतलब है कि खड़ामुख होली मार्ग पर लगातार जगह-जगह भू-स्खलन हो रहा है। इसके चलते वाहनों की आवाजाही ठप पड़ जा रही है। बुधवार को भी 12 बजे तक वाहनों की आवाजाही ठप रही। इससे यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

चंबा-तीसा मार्ग पर जारी रहा भू-स्खलन का क्रम

दो घंटे वाहनों की आवाजाही रही ठप यात्री हुए परेशान

हिमाचल दस्तक। चुराह
चंबा-तीसा मार्ग पर मधुवाड़ के समीप भू-स्खलन का क्रम बुधवार को दिन भर जारी रहा। इसके चलते यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। भू-स्खलन सुबह आठ बजे हुआ। इसके चलते करीब दो घंटे तक वाहनों की आवाजाही ठप रही। लोक निर्माण विभाग की मशीन ने मौके पर पहुंचकर मलबे को हटाया। इसके बाद वाहनों की आवाजाही शुरू हुई, लेकिन इसके बाद फिर भू-स्खलन हो गया।

लोक निर्माण विभाग ने यहां बार-बार हो रहे भू-स्खलन को देखते हुए मशीनरी मौके पर ही रखी है, ताकि जैसे ही भू-स्खलन हो तो मलबे को हटा दिया जा सके। गौरतलब है कि चंबा-तीसा मार्ग पर मधुवाड़ के समीप बारिश के चलते अकसर मलबा गिरता रहता है। इसके चलते यहां वाहनों की आवाजाही पर ब्रेक लग जाती है। लोक निर्माण विभाग तीसा के अधिशाषी अभियंता हर्ष पुरी का कहना है कि बुधवार को मधुवाड़ के समीप भू-स्खलन हुआ था। जिसे तुरंत हटा दिया गया। उन्होंने कहा कि यहां बार-बार भू-स्खलन हो रहा है।

यह भी पढ़ें – पांवटा में ट्रक ने दो बाइक सवारों को मारी टक्कर

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams