News Flash
rescues child laborer

ददाहू में हलवाई की दुकान में नाबलिग का हो रहा था शोषण

हिमाचल दस्तक। नाहन
श्रीरेणुकाजी विस क्षेत्र के ददाहू कस्बे में बाल श्रम का मामला सामने आया है। ददाहू में एक हलवाई की दुकान में काम करने वाले नाबालिग का जमकर शोषण हो रहा है। यहां पर 12 साल के एक मासूम से पुरे महीने काम करा कर महज 3500 रुपये वेतन प्रतिमाह दिया जा रहा है। ददाहू कस्बे के मेन बस स्टैंड पर स्थित एक स्वीट शॉप में बच्चे को रखा गया था।

टीम में शामिल रामलाल चौहान व परीक्षा कुमारी ने पुलिस की मदद से बच्चे को रेस्क्यू कर लिया। चाइल्डलाइन को 1098 के माध्यम से 23 मार्च को इसकी शिकायत मिली थी। टीम ने मौके पर पहुंचकर दुकानदार को चेतावनी जारी की। इसके बाद दुकानदार ने कुछ समय के लिए बच्चे को हटा दिया। फिर 11 जून को चाइल्ड लाइन को फिर सूचना मिली की दुकान पर 12 साल के बच्चे को दोबारा रख लिया गया है। रेस्क्यू करने के बाद बच्चे को सिरमौर बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया गया।

बच्चे के पंचायत, स्कूली व आधार कार्ड के रिकॉर्ड में उसकी उम्र 12 साल पाई गई है। इस बाबत जिला श्रम अधिकारी को भी सूचित किया गया है। साथ ही मामला एसपी व डीसी के संज्ञान में भी लाया जा चुका है।

रेस्क्यू करने के बाद बच्चे ने सिरमौर बाल कल्याण समिति के समक्ष बताया कि कि वह सुबह 8:00 बजे से रात 9:00 बजे तक काम करता था। दिन भर चाय बनाने के अलावा गिलास धोने व सफाई की जिम्मेदारी भी दी जाती थी। 13 घंटे के करीब उसे रोजाना काम लिया जाता था। चाइल्डलाइन टीम के मुताबिक बीती रात पुलिस ने दुकानदार के खिलाफ आपराधिक मामला भी दर्ज कर लिया है।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams