News Flash
Chiru Pooja Bharmaur

एक्टिंग के शौक और मेहनत से मिली हैं कामयाबी: चिरू पूजा

अब तक 6 हिमाचली एलबम में कर चुकी काम, एक पंजाबी वीडियो का चल रहा शूट

हिमाचल दस्तक। साहो

मेरा एक सपना है कि मैं बॉलीवुड में अभिनय के क्षेत्र में कुछ ऐसा करुं कि मेरा नाम भी अच्छी अभिनेत्रियों में शुमार हो और लोग लंबे अरसे तक मेरे अभिनय को याद रखें। अभिनय के क्षेत्र में कदम रखे अभी 6 साल हुए हैं, परंतु मुझे लगता है कि यह तो अभी शुरुआत है, अभी तो मंजिल बहुत दूर है। आहिस्ते-आहिस्ते कदम बढ़ाना है, ताकि बीच मोड़ में फिसल न जाऊं। यह कहना है चंबा के भरमौर क्षेत्र से सबंध रखने वाली और इन दिनों सोशल मीडिया पर छाई चिरू पूजा का।

चिरू पूजा भरमौर क्षेत्र के लाहल की रहने वाली है। पिता योग राज रेलवे में कार्यरत हैं और माता शकुंतला देवी अध्यापिका हैं। पिता की लुधियाना में पोस्टिंग के कारण वो ज्यादातर लुधियाना में ही रहते हैं। बचपन से ही अभिनय का शौक चिरू पूजा के सिर चढ़ गया था। पिछले छ: सालों तक मॉडलिंग की और पिछले आठ महीनों से अभिनय क्षेत्र में कदम रखा। इस दौरान यह 6 हिमाचली एल्बमों में काम कर चुकी है। इसके अलावा एक पंजाबी एल्बम “तेरी याद” की शूटिंग चल रही है। हाल ही में रिलीज हुए हिमाचली गीत “ढोल” ने तो सोशल मीडिया में धूम मचा दी है। दो दिन में ही हजारों लोग उसे पसंद कर चुके हैं।

Chiru Pooja Bharmaur

चिरू पूजा के अभिनय को हर कोई कर रहा है पसंद

चिरू पूजा का कहना है कि मेरा मकसद गद्दी कल्चर को प्रमोट करना भी है इसलिए हिमाचली एलबमों से ही शुरुआत की है। मेरा सपना है कि जब भी भरमौर का नाम आए या गद्दी कल्चर की बात आए तो वहां मेरा नाम जरूर जुड़ा हो। हालांकि इस क्षेत्र में लड़कियों के लिए बहुत मुश्किल होता है।

जब शुरुआत की थी तो कई तरह की सामाजिक बंधनों की बेडिय़ों ने जकडऩे की कोशिश की, परंतु उस जगह मेरी मां तथा भाई ढाल बन खड़े हुए थे। चिरू पूजा का कहना है कि चंबा की लड़कियां जो इस क्षेत्र में आगे आना चाहती है वो आगे आए, बस दिल में जुनून होना चाहिए। कहने वाले कहते रहेंगे लेकिन जब आप अपनी कामयाबी की उस मंजिल पर पहुंच जाओगे तो सभी कहेंगे हमें पता था कि यह कुछ कर जाएगी।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams