Vikramaditya Singh

शिमला ग्रामीण हलके से विक्रमादित्य सिंह ने मांगा टिकट

  • कहा, मुख्यमंत्री चुनाव लडऩे का जल्द लें निर्णय
  • डॉ. परमार के पोते चेतन के आवेदन से अन्य दावेदारों में मची खलबली

शिमला। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के विधानसभा क्षेत्र शिमला ग्रामीण से उनके पुत्र एवं युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने भी हुंकार भर दी है। उन्होंने मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में इस सीट से टिकट के लिए आवेदन किया। अपने समर्थकों के साथ यहां पहुंच कर विक्रमादित्य सिंह ने टिकट की दावेदारी जताई। मीडिया से बात में विक्रमादित्य ने कहा कि पार्टी हाईकमान जिसे भी टिकट दे उसके लिए युवा कांग्रेस दिन-रात मेहनत करेगी।

विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह प्रदेश नहीं, देश के नेता हैं और वे कहीं से भी चुनाव लड़ सकते हैं। वीरभद्र सिंह से उन्होंने आग्रह किया कि वे जल्द ही चुनाव लडऩे बारे निर्णय लें। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री को चुनाव लडऩे के लिए चौपाल, अर्की, कुटलैहड़, नाहन सहित ठियोग की जनता से भी ऑफर मिल चुका है। ऐसे में CM को जल्द फैसला लेना चाहिए।

चेतन परमार ने नाहन विस क्षेत्र से जताई दावेदारी

नाहन। विधानसभा क्षेत्र नाहन से हिमाचल निर्माण डॉ. यशवंत परमार के पोते चेतन परमार ने भी टिकट के लिए अप्लाई किया है। चेतन के दादा के बाद यहां से चेतन के पिता कुश परमार भी पांच मर्तबा चुनाव जीत चुके हैं। अब चेतन परमार द्वारा टिकट के लिए आवेदन करने से टिकट के अन्य दावेदारों में खलबली मच गई है।

चेतन परमार द्वारा टिकट की दावेदारी न केवल अन्य दावेदारों के लिए परेशानी भरी है, बल्कि पार्टी हाईकमान के लिए भी दुविधा की बात हो सकती है। डॉ. वाईएस परमार के प्रदेश के अस्तित्व के लिए किए गए संघर्ष को भी हाईकमान दरकिनार नहीं कर सकता। ऐसे में चेतन परमार की दावेदारी पार्टी हाईकमान पर वजन डालेगी। मगर चेतन परमार के आवेदन से इनकी राहें भी काफी हद तक मुश्किलों में पड़ गई हैं।

बताते चलें कि स्वर्गीय डॉ. यशवंत सिंह परमार शुरू से ही कांग्रेस से जुड़े रहे। इसके बाद उनके पुत्र कुश परमार व पुत्रवधु सत्या परमार भी कांग्रेस के ईमानदार सिपाही रहे हैं। अब तीसरी पीढ़ी की भी कांग्रेस से ही दावेदारी होने से एक बात तो तय है कि उक्त परिवार पूरी तरह से कांग्रेस के प्रति समर्पित हैं।

ऐसे में टिकट पार्टी हाईकमान के लिए टिकट आबंटन मुश्किल भरा और अन्य दावेदारों में हलचल होना लाजिमी है। पूर्व विधायक कुश परमार भी एक स्वच्छ एवं ईमानदार छवि के नेता रहे हैं। कुश परमार की पत्नी सत्या परमार भी वर्तमान सरकार में प्रदेश समाज कल्याण बोर्ड की चेयरपर्सन के पद पर तैनात हैं, जोकि दो बार प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे ठाकुर रामलाल की बेटी हैं।

अध्यक्ष का पद छोड़ें शाह : विक्रमादित्य

युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से इस्तीफा मांगा है। उन्होंने कहा कि अमित शाह के बेटे की आमदनी देश में बीजेपी की सरकार आने के बाद करोड़ों में चल गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि देश में मोदी सरकार बनने एवं नोटबंदी के अमित शाह के बेटे की कंपनी को गुजरात के कई बैंकों से ऋण मिला। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री पर आरोप लगाने से पहले भाजपा अपने गिरेवान में झांके।

विक्रमादित्य के खिलाफ प्रदीप ने मांगा टिकट

युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह के खिलाफ शिमला ग्रामीण से ही प्रदीप वर्मा ने भी टिकट मांगा है। मंगलवार को प्रदीप वर्मा ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्यालय शिमला में टिकट के लिए आवेदन किया। प्रदीप वर्मा ने अपने समर्थकों के साथ शिमला ग्रामीण से दावेदारी जताई है। इससे पहले मंगलवार सुबह विक्रमादित्य सिंह ने टिकट के लिए आवेदन किया था।

ये भी हैं टिकट की दौड़ में

वर्तमान में नाहन विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस से हिमफैड के चेयरमैन कंवर अजय बहादुर सिंह, जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष अजय सोलंकी , मुस्लिम बिरादरी से मोहम्मद इकबाल उम्मीदवारी की दौड़ में है।

 

ठियोग से चुनाव मैदान में उतरेंगे वीरभद्र

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams